SIT के सामने पेश होने पंजाब जाएंगी अलका लांबा, कहा- ना मैं डरने वाली और ना ही AAP की तरह माफी मांगने वाली

 नई दिल्ली।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के खिलाफ भड़काऊ बयानों को लेकर दर्ज एक मामले के सिलसिले में पंजाब पुलिस बुधवार को आम आदमी पार्टी के पूर्व नेताओं कुमार विश्वास और अलका लांबा के घर पर पहुंची। दोनों नेताओं को पूछताछ के लिए 26 अप्रैल को तलब किया गया है। अलका लांबा इन दिनों में कांग्रेस में हैं। उन्होंने कहा है कि वह पंजाब जरूर जाएंगी। उन्होंने यह भी कहा कि 'मैं डरने वाली नहीं हूं।' पंजाब पुलिस से प्राप्त नोटिस ट्वीट करते हुए उन्होंने लिखा,  'पंजाब पुलिस द्वारा दिए गए कानूनी नोटिस के मुताबिक 26 अप्रैल मंगलवार सुबह 9 बजे एसआईटी के सामने पेश होने के लिए रूपनगर, पंजाब जाऊंगी। जो कहा है उस पर सदा अडिग रहूंगी। डरने वालों में से नहीं हूं। ना ही AAP की तरह नशा माफियाओं से लिखित में माफी मांग कर डर कर घर बैठ जाने वालों में से हूं।' आपको बता दें कि पंजाब में रूपनगर के सदर थाने में 12 अप्रैल को मामला दर्ज किया गया है। कुमार विश्वास ने पंजाब विधानसभा चुनाव से पहले केजरीवाल पर अलगाववादियों का समर्थन करने का आरोप लगाया था। विश्वास ने पुलिस दल के बुधवार सुबह उनके गाजियाबाद स्थित घर पहुंचने की जानकारी एक ट्वीट कर साझा की। उन्होंने चेतावनी दी कि आप संयोजक केजरीवाल एक दिन पंजाब के साथ धोखा करेंगे।

कुमार विश्वास ने कहा था, ''सुबह-सुबह पंजाब पुलिस द्वार पर पधारी है। एक समय, मेरे द्वारा ही पार्टी में शामिल कराए गए भगवंत मान को आगाह कर रहा हूं कि तुम, दिल्ली में बैठे जिस आदमी को पंजाब के लोगों की दी हुई ताकत से खेलने दे रहे हो वो एक दिन तुम्हें व पंजाब को भी धोखा देगा। देश मेरी चेतावनी याद रखे।'' ससे पहले कांग्रेस नेता अलका लांबा ने कहा कि पंजाब पुलिस ने उनके दिल्ली स्थित आवास के बाहर एक नोटिस चस्पा किया है और उन्हें विश्वास के खिलाफ दर्ज मामले में पूछताछ के लिए तलब किया है। उन पर विश्वास के बयानों का समर्थन करने का आरोप है।

पंजाब पुलिस के इस कदम के बाद राज्य में विपक्ष ने भगवंत मान नीत सरकार पर आप नेता केजरीवाल की कठपुतली की तरह काम करने और आलोचकों को चुप करने के लिए बल का इस्तेमाल करने का आरोप लगाया। रूपनगर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक संदीप गर्ग ने फोन पर बताया कि हमने कुमार विश्वास के खिलाफ कानून के संबंधित प्रावधानों के तहत मामला दर्ज किया है। पुलिस ने बताया कि एक नोटिस में विश्वास को अपने आरोपों के समर्थन में सबूत पेश करने के लिए भी कहा गया है। पुलिस ने बयान में कहा कि जांच के तहत कुमार विश्वास को नोटिस भेजा गया है और उनके आरोपों के समर्थन में जो भी सबूत हैं, उन्हें पेश करने को कहा गया है।

Related Articles

Back to top button