SP सांसद बर्क भगवान की तस्वीर पर बिरयानी बेचने वाले के समर्थन में आए

संबल

उत्तर प्रदेश के संबल में सांप्रदायिक भावनाओं को ठेक पहुंचाने के आरोप में जेल भेजे गए बिरयानी विक्रेता तालिब को समाजवादी सांसद शफीकुर्रहमान बर्क ने बेकसूर बताया है। सपा सांसद ने कहा कि रद्दी के अखबार में किसकी तस्वीर छपी है ये कौन चेक करता है? सब ऐसे ही सामान पैक करते हैं। रहमान ने कहा कि इस तरह की कार्रवाई कर कुछ लोग माहौल खराब करना चाहते हैं।

गौरतलब है कि पुलिस ने सोमवार को देवी-देवताओं की छपी तस्वीर पर बिरयानी बेचने के आरोप में तालिब नाम के शख्स को गिरफ्तार किया था। यही नहीं, तालिब को गिरफ्तार करने जब पुलिस पहुंची तो उसने पुलिस पर हमला भी किया था। पुलिस ने तालिब को धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने और पुलिस पर हमला करने के आरोप में गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था।

मामला सदर कोतवाली इलाके में मौजूद महक रेस्टोरेंट का है जहां काउंटर पर बड़ी तादात में देवी-देवताओं की फोटो वाले पोस्टर मिले हैं जिसमें वो नॉनवेज बिरयानी परोसता था। हिंदू समुदाय के किसी सदस्य ने सोशल मीडिया के जरिए तस्वीर वायरल कर दी जिसके बाद पुलिस में शिकायत की गई। पुलिस जब मौके पर पहुंची तो आरोपी ने पुलिस पार्टी पर हमला कर दिया। पुलिस ने रेस्टोरेंट से हिंदू देवी-देवताओं की मूर्ति को कब्जे में लिया और आरोपी होटल मालिक के खिलाफ केस कर्ज किया।

Related Articles

Back to top button