प्रदेश कांग्रेस के उपाध्यक्ष अरुणोदय चौबे ने दिया इस्तीफा, विधायक दल का गांधी प्रतिमा के सामने धरना

भोपाल

पूर्व विधायक एवं प्रदेश कांग्रेस के उपाध्यक्ष अरुणोदय चौबे ने पार्टी के सभी पदों से इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने आज प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ को भेजे इस्तीफे में लिखा है कि उन्होंने तीस साल तक कांग्रेस की सेवा की, इसके बाद भी खुरई विधानसभा क्षेत्र के कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ जो बर्ताब हुआ है, उससे मैं और खुरई विधानसभा क्षेत्र के सभी कार्यकर्ता दुखी है। गौरतलब है कि उन्हें हाल ही में प्रदेश कांग्रेस ने प्रतिनिधि भी बनाया है। जिसकी ऐलान शनिवार को होने वाला है। वहीं उन्हें पिछले महीने ही टीकमगढ़ जिले के प्रभारी के तौर पर जिम्मेदारी सौंपी गई थी। उन्हें कांग्रेस की राजनीति में कमलनाथ गुट का ही माना जाता है।

तय समय से पहले विधानसभा का मानसून सत्र अनिश्चित काल के लिए स्थगित होने के बाद अब कांग्रेस विधायक दल गांधी प्रतिमा के सामने धरना देगा।  दोपहर में होने वाले धरने में कांग्रेस के अधिकांश विधायक शामिल होंगे। गौरतलब है कि कांग्रेस इस सत्र में कई मुद्दों पर चर्चा करवाना चाहती थी।

राज्यपाल मंगूभाई पटेल को इस मामले पर गुरुवार को कांग्रेस विधायकों ने एक ज्ञापन दिया था, जिसमें हाईकोर्ट के जज की निगरानी में इस मामले की जांच करवाने की मांग की थी। आज कांग्रेस इस मामले में गांधी प्रतिमा के सामने धरना देकर भी इस मामले की निष्पक्ष जांच की मांग करने के साथ ही विधानसभा में जिन-जिन मुद्दों पर चर्चा नहीं हो सकी,उन्हें लेकर यहां पर अपनी मांग रखेगी। इस धरने में नेता प्रतिपक्ष डॉ. गोविंद सिंह, सज्जन सिंह वर्मा सहित अधिकांश विधायक शामिल होंगे।

प्रदेश कांग्रेस के प्रतिनिधियों की बैठक कल
प्रदेश कांग्रेस के प्रतिनिधियों की शनिवार को बैठक होने जा रही है। प्रदेश संगठन चुनाव के दौरान प्रदेश भर से 487 प्रदेश प्रतिनिधि बनाए गए हैं। ये सभी प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष के निर्वाचन के लिए वोटिंग में हिस्सा ले सकते हैं। इन सभी को प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने शनिवार को बुलाया है। इन सभी से संगठन चुनाव के साथ ही मिशन 2023 को लेकर चर्चा की जाएगी। सभी प्रतिनिधियों को बैठक की सूचना फोन पर दे दी गई है।

Related Articles

Back to top button