बीवाई विजयेंद्र के शिकारीपुरा से चुनाव लडऩे पलटे येडियूरप्पा

बेंगलूरु
 भाजपा के दिग्गज नेता BS Yediyurappa पुत्र बीवाई विजयेंद्र के शिकारीपुरा विधासभा सीट से चुनाव लडऩे के बयान से पलट गए हैं।

शनिवार को उन्होंने स्पष्ट किया कि केवल पार्टी का केंद्रीय नेतृत्व ही 2023 के विधानसभा चुनाव के लिए टिकटों पर फैसला कर सकता है। मालूम हो कि शुक्रवार को ही उन्होंने घोषणा की थी कि उनके बेटे बीवाई विजयेंद्र शिकारीपुरा से पार्टी के उम्मीदवार होंगे। उनके बयान को भाजपा नेतृत्व पर विजयेन्द्र को चुनाव में टिकट देने के लिए दबाव बनाने के प्रयास के रूप में देखा गया था।

शनिवार को बदले हुए स्वर में उन्होंने कहा कि मैं केवल सुझाव दे सकता हूं। मैं मांग नहीं सकता। अंतत: यह Prime Minister Narendra Modi, भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह का फैसला होगा।
बता दें कि शुक्रवार को येडियूरप्पा ने चुनावी राजनीति से अपनी सेवानिवृत्ति का संकेत देते हुए कहा था कि भाजपा उपाध्यक्ष विजयेंद्र शिकारीपुरा निर्वाचन क्षेत्र में उनकी जगह लेंगे। येडियूरप्पा ने 1983 से आठ बार शिकारीपुरा का प्रतिनिधित्व किया है।

येडियूरप्पा ने कहा कि उन्हें बयान देने के लिए मजबूर किया गया। उन्होंने कहा कि शिकारीपुरा में हमारे कार्यकर्ता चाहते थे कि मैं चुनाव लड़ूं। मेरे चुनाव लडऩे का कोई सवाल ही नहीं है। मैं अपनी भूमिका राज्य भर में यात्रा करने और भाजपा को सत्ता में आने में मदद करने तक सीमित रखूंगा। मैं अपने कार्यकर्ताओं को शर्मिंदा नहीं करना चाहता था। इसलिए, मैंने कहा कि विजयेंद्र चुनाव लड़ेंगे।
येडियूरप्पा ने यह भी कहा कि विजयेंद्र पर मैसूरु या चामराजनगर जिलों से चुनाव लडऩे का काफी दबाव है। विजयेंद्र जहां से भी तय करेंगे, वहां से चुनाव लड़ेंगे। पार्टी जो भी फैसला करेगी, हम उसका पालन करेंगे। वह जहां भी चुनाव लड़ता है, वहां से जीतने की क्षमता रखता है। उन्होंने कहा कि वह 2023 के चुनावों में भाजपा को कम से कम 140 सीटें जीतने के लिए प्रयास करेंगे।

Related Articles

Back to top button