Turmeric Tilak : नाभि में हल्दी का तिलक लगाने से मिलेंगे कई फायदे

Turmeric Tilak : हल्दी का ज्योतिष में भी विशेष महत्त्व है। हल्दी की गांठ जीवन के लिए कई तरह से लाभकारी होती है। इसे इस्तेमाल से स्वास्थ्य भी ठीक होता है और जीवन की परेशानियां भी खत्म की जा सकती हैं।

Turmeric Tilak : ज्योतिष शास्त्र में कई ऐसे उपाय बताए गए है जिन्हें अपना कर इंसान अपनी सेहत के साथ अपनी आर्थिक समस्याओं को ठीक कर सकता है। कई लोग अपने जीवन की परेशानियों से अक्सर परेशान रहते हैं। ऐसे में वह कई तरह के उपाय ढूंढ़ते हैं जिससे उनकी समस्या ठीक हो जाए।

आज हम आपको हल्दी से किया जाने वाला एक ऐसा उपाय बताने जा रहे है जिसको अपना कर आप कई तरह की समस्याओं की ठीक किया जा सकता हैं। हल्दी का ज्योतिष में भी विशेष महत्त्व है। हल्दी की गांठ जीवन के लिए कई तरह से लाभकारी होती है। इसे इस्तेमाल से स्वास्थ्य भी ठीक होता है और जीवन की परेशानियां भी खत्म की जा सकती हैं। तो चलिए जानते है हल्दी से किए जाने वाले इस उपाय के बारे में

कच्ची हल्दी कई मायनों में सेहत के साथ जीवन के लिए फायदेमंद होती हैं। कई समस्याओं से निजात पाने के लिए आप हल्दी का इस्तेमाल कर सकते हैं। वैसे इसका इस्तेमाल अधिकतर चीज़ों के लिए किया जाता है जैसे पूजा-पाठ, सर्दी-जुखाम, स्वास्थ्य से जुड़ी समस्या और ज्योतिषी उपाय आदि के लिए किया जाता है। आज हम आपको हल्दी का तिलक नाभि में लगाने के फायदे बताने जा रहे हैं साथ ही इसका आध्यात्मिक लाभ भी बता रहे हैं तो चलिए जानते है –

नाभि पर हल्दी लगाने के स्वास्थ्य लाभ

यदि हम हल्दी लगाने के सेहत से जुड़े फायदों की बात करें तो हल्दी में एंटीसेप्टिक, एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं और इसे नाभि क्षेत्र पर लगाने से शरीर की रोग प्रतिरक्षा को बढ़ावा देने, संक्रमण को रोकने और समग्र स्वास्थ्य में सुधार करने में मदद मिलती है।

नाभि पर हल्दी लगाने के आध्यात्मिक लाभ

हमारे शरीर के नाभि वाले हिस्से को आत्मा का आसन माना जाता है और इस क्षेत्र पर हल्दी लगाने से शरीर में आध्यात्मिक ऊर्जा को सक्रिय करने, आध्यात्मिक विकास को बढ़ावा देने और परमात्मा के साथ संबंध बढ़ाने के लिए सबसे अच्छा स्रोत माना जाता है। मान्यता है कि नाभि पर हल्दी लगाने से शरीर सीधे परमात्मा से जुड़ पाता है और ईश्वर भक्ति में मन केंद्रित कर पाता है।

नाभि पर हल्दी लगाने के मानसिक लाभ

ऐसा माना जाता है कि हल्दी का मन पर शांत प्रभाव पड़ता है और इसे नाभि क्षेत्र पर लगाने से तनाव, चिंता और अवसाद कम होता है और मानसिक स्पष्टता और शांति को बढ़ावा मिलता है। यदि हम ज्योतिष की मानें तो नाभि क्षेत्र पर हल्दी लगाने से व्यक्ति के जीवन में धन और समृद्धि बनी रहती है और वित्तीय कठिनाइयों को दूर करने में मदद मिल सकती है।

नाभि पर हल्दी लगाने के ज्योतिष लाभ

हल्दी का तिलक लगाना ज्योतिष शास्त्र में बहुत प्रचलित है। ये तिलक नाभि स्थान पर इसलिए लगाया जाता है जिससे घर में होने वाली समस्याओं से मुक्ति मिल सके। नाभि शरीर का वह स्थान है, जिसके माध्यम से हमारी प्राण शक्ति बाहर निकलती है।

हल्दी का तिलक (माथे पर तिलक लगाना क्यों होता है शुभ) नाभि पर लगाने से हमारे शरीर में एक अनोखा प्रभाव पड़ता है। ज्योतिष में ऐसी मान्यता है कि हल्दी किसी व्यक्ति के आकर्षण को बढ़ाती है और इसे नाभि क्षेत्र पर लगाने से रिश्तों में सुधार होता है और दूसरों से प्यार और स्नेह बढ़ता है।

शारीरिक क्लेशों से मुक्ति मिलती है

हल्दी का तिलक नाभि पर लगाने से शरीर के सभी दोषों का समन्वय बना रहता है जिससे शारीरिक क्लेशों से मुक्ति मिलती है। नाभि में हल्दी के तिलक से शरीर में रक्त संचार बढ़ता है, इससे शरीर के सभी अंगो तक पोषण पहुंचता है। इससे शरीर को रोग मुक्त होने में मदद मिलती है।

कुल मिलाकर, नाभि क्षेत्र पर हल्दी लगाने को ज्योतिष में एक लाभकारी अभ्यास माना जाता है और माना जाता है कि यह शारीरिक, मानसिक और आध्यात्मिक कल्याण को बढ़ावा देता है।

 

Back to top button