इंग्लैंड में लगातार तीसरी बार टेस्ट सीरीज हारा भारत, दिग्गजों ने यूं किया रिऐक्ट

 
टीम इंडिया का इंग्लैंड दौरा मंगलवार को खत्म हो गया। इस सीरीज में भारत 1-4 से हार गया। इंग्लिश टीम के घर में भारत लगातार तीसरी टेस्ट सीरीज (2011, 2014 और 2018) हारा है। इससे पहले भारतीय टीम ने राहुल द्रविड़ की कप्तानी (2007) में यहां जीत दर्ज की थी। आगे की स्लाइड्स में  
वीवीएस लक्ष्मण के मुताबिक, 'इस टेस्ट के कई पल लंबे समय तक याद रहेंगे। एलिस्टर कुक ने अपने अंतिम टेस्ट में शतक ठोका, पंत ने पहला शतक बनाया, राहुल ने भी शानदार 149 रन किए और जिम्मी एंडरसन इस मैच में सबसे ज्यादा टेस्ट विकेट लेने वाले तेज गेंदबाज बने। इंग्लैंड को इस जीत की बधाई।'
 
इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइकल वॉन ने इस सीरीज को शानदार बताया। उन्होंने लिखा, 'दोनों टीमों ने स्टार खेल दिखाया… टीम इंडिया को शाबाशी, जिसने दिखाया कि उसके पास किसी भी परिस्थिति से निपटने के लिए उच्च स्तर की टीम है.. लेकिन इंग्लैंड ने एक बार फिर दिखा दिया कि इन कंडीशंस में वह बहुत-बहुत मजबूत टीम है।'
 
पूर्व विस्फोटक बल्लेबाज वीरेंदर सहवाग ने इंग्लैंड को 4-1 से जीतने के लिए बधाई दी। वीरू ने लिखा भारतीय टीम कभी-कभी अच्छी दिखी लेकिन उसकी बैटिंग में निरंतरता की कमी साफ झलकी। बोलरों ने पूरी सीरीज में निरंतरता दिखाई। विदेशी दौरों के लिए अभी और काम करना बाकी है। 
टीम इंडिया के पूर्व टेस्ट ओपनर आकाश चोपड़ा ने मायूसी दर्शाते हुए लिखा, 'वह हो न सका, जो होना चाहिए था… समान अहसास के साथ विदेश में लगातार दूसरी हार। भारतीय फास्ट बोलर विश्व स्तर के हैं। दुनिया की बेस्ट टेस्ट टीम बनने के लिए दूसरे क्षेत्र में अभी काम बाकी है।'
 

क्रिकेट एक्सपर्ट हर्षा भोगले ने कहा, 'खेल में इन शब्दों के लिए कोई जगह नहीं है 'अगर ऐसा होता।' इस सीरीज में भारत के पास कुछ अच्छे पल थे लेकिन स्कोरकार्ड कहता है 4-1 और भारत इतना अच्छा नहीं खेला, जितना उसे खेलना चाहिए था। यह विदेश में लगातार दूसरी हार है, जिसने निराश किया।'
 
मोहम्मद कैफ ने लिखा, 'इस टूर पर भारत के लिए कुछ सकारात्मक पहलू भी थे। लेकिन विदेशों में अच्छा करने के लिए अभी टीम के लिए कुछ काम बाकी है। इंग्लैंड को इस जीत की बधाई।'

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Join Our Whatsapp Group