एशियाड की ‘गोल्डन गर्ल’ स्वप्ना का छलका दर्द, कहा- रहने को घर नहीं, बंगाल सरकार करे मदद

 
कोलकाता

एशियाई खेलों में हेप्टाथलन का स्वर्ण पदक जीतने वाली स्वप्ना बर्मन ने पश्चिम बंगाल सरकार से शहर में एक घर देने मांग की। स्वप्ना के पास कोलकाता में रहने के लिए स्थायी घर नहीं है। जलपाईगुड़ी जिले से तालुक रखने वाली स्वप्ना 2012 से यहां भारतीय खेल प्राधिकरण (साई) के पूर्वी परिक्षण केंद्र में ट्रेनिंग कर रही हैं। बता दें स्वप्ना एशियाई खेलों में हेप्टाथलन में स्वर्ण पदक जीतने वाली पहली भारतीय खिलाड़ी हैं। 
 
स्वप्ना ने यहां कहा, ‘मेरी एक ही इच्छा है कि मेरा साई कॉम्पलेक्स के पास एक घर हो। मुझे अभी साई कॉम्पलेक्स में रहना होता है, लेकिन जब मेरी ट्रेनिंग नहीं होती तो मेरे पास रहने के लिए जगह नहीं है। अगर सरकार मुझे एक घर देती है तो मेरी बहुत मदद हो जाएगी।’ 

 
इससे पहले, मुक्केबाज विजेंदर सिंह और भारतीय ऐथलेटिक्स टीम के मुख्य कोच बहादुर सिंह ने बंगाल सरकार से स्वप्ना के लिए घोषित ईनामी राशी बढ़ाने की मांग की थी। 

 
यूं जीता सोना 

उल्लेखनीय है कि स्वप्ना ने 7 स्पर्धाओं में कुल 6026 अंकों के साथ पहला स्थान हासिल किया। स्वप्ना ने 100 मीटर में हीट-2 में 981 अंकों के साथ चौथा स्थान हासिल किया था। ऊंची कूद में 1003 अंकों के साथ पहले स्थान पर कब्जा जमाया। गोला फेंक में वह 707 अंकों के साथ दूसरे स्थान पर रहीं। 200 मीटर रेस में उन्होंने हीट-2 में 790 अंक लिए। 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button