चौथा टेस्‍ट जीता भारत तो टूट जाएगा 15 साल पुराना रिकॉर्ड, केएल राहुल भी रचेंगे इतिहास

साउथएम्पटन में भारत और इंग्लैंड के बीच जारी चौथे टेस्ट मैच में कह सकते हैं कि पलड़ा अभी थोड़ा बराबरी पर है। हालांकि रिकॉर्ड बुक पर नजर दौड़ाएं तो पलड़ा थोड़ा इंग्लैंड की तरफ झुकता दिखाई दे रहा है। दरअसल चौथी पारी में 200 से ज्यादा रनों का पीछा करने में भारत का रिकॉर्ड बहुत अच्छा नहीं है। अब चूंकि इंग्लैंड की लीड बढ़कर 233 रन हो गई है और अभी भी उसके 2 विकेट शेष हैं, ऐसे में देखने वाली बात होगी कि भारतीय टीम अपने रिकॉर्ड में सुधार करती है या फिर रिकॉर्ड और भी खराब होता है?

एक नजर इस मैच में बनने वाले रिकॉर्ड्स परः भारत ने टेस्ट मैचों में 200 प्लस के टारगेट का पीछा एशिया से बाहर अंतिम बार साल 2003 में एडीलेड में किया था। इस मैच में भारत ने 230 रनों का टारगेट 6 विकेट खोकर हासिल किया और भारत की इस जीत के हीरो रहे थे राहुल द्रविड़, जिन्होंने 72 रनों की नाबाद पारी खेली थी। एडीलेड के अलावा भारत ने एशिया के बाहर सिर्फ पोर्ट ऑफ स्पेन, वेस्टइंडीज के खिलाफ साल 1976 में और न्यूजीलैंड के खिलाफ ड्यूनेडिन में साल 1968 में ही टेस्ट मैच में 200 या उससे ज्यादा का टारगेट हासिल किया था।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button