जापान का 22 साल का इंतजार खत्म, अमेरिकी ओपन के सेमीफाइनल में ओसाका

न्यूयॉर्क            
नाओमी ओसाका 22 साल में किसी ग्रैंड स्लैम के महिला एकल सेमीफाइनल में जगह बनाने वाली जापान की पहली खिलाड़ी बन गई हैं. ओसाका ने अमेरिकी ओपन के क्वार्टर फाइनल में सीधे सेटों में यूक्रेन की लेसिया सुरेंको पर 6-1, 6-1 से जीत दर्ज की. जापान की किमिको डेट ने 1996 में जब विंबडलन सेमीफाइनल में जगह बनाई थी, तब ओसाका का जन्म भी नहीं हुआ था. लेकिन अब इस 20 साल की खिलाड़ी के पास एक कदम आगे बढ़ते हुए पहली बार ग्रैंड स्लैम फाइनल में जगह बनाने का मौका है.बाद में पुरुष एकल में जापान के केई निशिकोरी भी तीसरी बार अमेरिकी ओपन के सेमीफाइनल में जगह बनाने में सफल रहे. यह पहली बार है, जब किसी एक ग्रैंड स्लैम के महिला और पुरुष दोनों एकल वर्गों के सेमीफाइनल में एक साथ जापानी खिलाड़ी पहुंचे हैं.

20वीं वरीय ओसाका को शनिवार को होने वाले फाइनल में जगह बनाने के लिए सेमीफाइनल में अमेरिका की 14वीं वरीय मेडिसन कीज की चुनौती से पार पाना होगा. कीज ने स्पेन की कार्ला सुआरेज नवारो को सीधे सेटों में 6-4, 6-3 से हराया. ओसाका ने 2017 की उपविजेता कीज के खिलाफ अब तक अपने करियर के तीनों मैच गंवाए हैं. ओसाका ने मैच के बाद कहा, ‘सेमीफाइनल में जगह बनाना काफी मायने रखता है.’ ओसाका ने प्री क्वार्टर फाइनल के संदर्भ में कहा, ‘पिछली बार मैं काफी रोई थी और काफी लोगों ने मेरा मजाक बनाया था. इसलिए बस बार मैं सीधे नेट पर गई.’

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button