62 रनों से करारी हार पर भड़की मिताली,बैटिंग पर ठीकरा फोड़ा

हेमिल्टन
आईसीसी महिला वर्ल्ड कप में भारतीय टीम को पहली बार हार झेलनी पड़ी. अपने दूसरे मैच में मेजबान न्यूजीलैंड टीम के हाथों 62 रनों से करारी शिकस्त मिली है. इस हार को लेकर भारतीय कप्तान मिताली राज ने बैटिंग पर ठीकरा फोड़ा है.

उन्होंने कहा कि बैटिंग के टॉप ऑर्डर में कोई भी उम्मीद के मुताबिक प्रदर्शन नहीं कर सका. आखिर में हरमनप्रीत कौर ने अच्छी बैटिंग की, लेकिन तब कोई बैटर नहीं बचा था. हालांकि, पिच खराब नहीं थी. जीत के लिए 261 रनों के लक्ष्य के जवाब में भारतीय टीम 198 रन ही बना सकी.

'हम बेहतर बैटिंग कर सकते थे'

मिताली ने मैच के बाद कहा, ‘‘हमारे बल्लेबाजों को खासकर शीर्ष और मध्यक्रम को अच्छा प्रदर्शन करना होगा, क्योंकि दूसरी टीमें 250 . 260 रन बना रहीं हैं. यह लक्ष्य हासिल किया जा सकता था अगर शीर्षक्रम अच्छा प्रदर्शन करता. लगातार विकेट गिरने से काफी दबाव बना और बाद में हमारे पास बल्लेबाज ही नहीं बचे. पिच में अच्छी उछाल थी, लेकिन बल्लेबाजी के लिये यह खराब पिच नहीं थी. उनके तेज गेंदबाजों ने अनुशासित प्रदर्शन किया, लेकिन हम इससे बेहतर बैटिंग कर सकते थे.

मिताली ने पाकिस्तान के खिलाफ पहले मैच में मिली जीत के बाद भी यह चिंता जताई थी. पहले मैच में शीर्षक्रम की नाकामी की भरपाई निचले क्रम ने कर दी थी. भारत के गेंदबाजों ने उम्दा प्रदर्शन करके न्यूजीलैंड को नौ विकेट पर 260 रन पर रोक दिया.

'गेंदबाजों ने शानदार प्रदर्शन किया'

मिताली ने कहा, ‘हमारे गेंदबाजों ने आज अच्छा प्रदर्शन किया. शुरुआती विकेट लेने के बाद जिस तरह से वे साझेदारियां बना रही थीं , मुझे लगा कि 270 या 280 रन बना लेंगे.’ मेजबान कप्तान सोफी डेवाइन ने जीत को टीम प्रयासों का नतीजा बताया. 

उन्होंने कहा, ‘यह मुकम्मल प्रदर्शन था. हमने अच्छी साझेदारियां बनाईं. एमी सैटर्थवेट ने शानदार प्रदर्शन किया. हमने नींव तैयार की और हमें पता था कि यह अच्छा स्कोर है.’ उन्होंने अपने गेंदबाजों की तारीफ करते हुए कहा, ‘गेंदबाजों ने शानदार प्रदर्शन किया. फ्रांसिस मैके ने उम्दा स्पिन गेंदबाजी की और ली ताहुहू ने बीच के ओवरों में रनगति रोकी.’

Related Articles

Back to top button