ऋषभ पंत ने बल्लेबाजों को बाहर आने को कहा, कोच प्रवीण आमरे मैदान में घुसे

 मुंबई
 आईपीएल 2022 में अंपायर के फैसले को लेकर लगातार सवाल उठ रहे हैं। दिल्ली कैपिटल्स बनाम राजस्थान रॉयल्स (Delhi Capitals vs Rajasthan Royals) मुकाबले के दौरान भी अंपायर के फैसले ने एक नए विवाद को जन्म दे दिया। दिल्ली की टीम यह मुकाबला 15 रन से हार गई। लेकिन मैच के अंतिम ओवर में हाईवोल्टेज ड्रामा देखने को मिला। यह ड्रामा नो-बॉल को लेकर था, जोकि अंपायर ने नहीं दिया। दिल्ली को जीत के लिए 6 गेंद पर 36 रन बनाने थे। रोवमैन पॉवेल (Rovman Powell) ने पहली तीन गेंदों पर लगातार तीन छक्के लगाकर दिल्ली को मैच के करीब ला दिया।
 
दरअसल, ओबेद मैककॉय की गेंद फुल टॉस थी और दिल्ली कैपिटल्स की टीम ने इसे नो बॉल देने की मांग की। हालांकि मैदानी अंपायर ने नो बॉल नहीं दिया। उनकी तरफ से टीवी अंपायर से चेक कराने की मांग की गई, लेकिन अंपायर ने इसे भी नहीं माना। इसके बाद कप्तान ऋषभ पंत (Rishabh Pant) ने अपने दोनों बल्लेबाज पॉवेल और कुलदीपर यादव को मैदान से बाहर बुलाने का इशारा कर दिया। गेंदबाजी कोच शेन वॉटसन ने भी पंत के पास जाकर उन्हें समझाने की कोशिश की। पंत यहीं नहीं रुके और उन्होंने जोस बटलर से भी बहस करनी शुरू कर दी।
 
वहीं, बल्लेबाजी कोच प्रवीण आमरे मैदान में घुसकर अंपायर से बहस करने लगे। इसके बाद भी अंपायर ने थर्ड अंपायर से मदद नहीं मांगी और आमरे को मैदान से बाहर जाने के लिए कह दिया। आमरे मैदान के बाहर चले गए और इसके बाद मैच दोबारा शुरू हो पाया। उस नो बॉल पर अब जमकर विवाद हो रहा है क्योंकि वह गेंद पॉवेल की कमर के आस पास थी। इस विवाद के बाद पॉवेल चौथी गेंद मिस कर बैठे और पांचवी गेंद पर उन्होंने दो रन लिए। अंतिम गेंद पर वह बड़ा शॉट लगाना चाहते थे मगर वह गेंद को हवा में मार बैठे और संजू सैमसन ने शानदार कैच पकड़ उनकी पारी का अंत करने के साथ-साथ दिल्ली पर जीत दर्ज की।

Related Articles

Back to top button