एसडीएम ने गार्ड से सीखा बंदूक चलाना, फिर खुद को मार ली गोली

बांदा 
यूपी के कानपुर में आईपीएस अधिकारी सुरेंद्र दास की खुदकुशी का मामला अभी ठंडा भी नहीं पड़ा कि ललितपुर जिले में एक एसडीएम अधिकारी ने खुद को गोली मार कर आत्महत्या कर ली। ललितपुर के मडावरा में तैनात एसडीएम हेमेंद्र कुमार ने रविवार को गार्ड की राइफल से गोली मार ली। खुदकुशी की वजह अभी स्पष्ट नहीं है।  
  
तहसील के कर्मचारियों के मुताबिक हेमेंद्र रविवार को दिन में करीब 3:15 बजे केंद्रीय मंत्री उमा भारती के कार्यक्रम से लौटे थे। इसके बाद हाथ-पैर धोकर खाना खाने बैठे ही थे कि फोन की घंटी बजी। फोन पर बात करते-करते वह कुछ बेचैन से हो गए। बात खत्म करने के बाद उन्होंने एक गार्ड को अपने पास बुलाया और उसकी राइफल ले ली। उन्होंने गार्ड से पूछा कि यह चलती कैसी है। गार्ड ने उन्हें चलाने का ढंग बताया। इसके बाद वह राइफल लेकर कमरे में चले गए और दरवाजा बंद करके खुद को गोली मार ली। 

फायरिंग की आवाज सुनकर गार्ड और अन्य कर्मचारी दौड़ पड़े। उन्होंने पहले दरवाजा खटखटाया, लेकिन अंदर से कोई प्रतिक्रिया नहीं मिलने पर दरवाजा तोड़ दिया। भीतर हेमेंद्र खून से लथपथ पड़े थे। उन्हें तुरंत अस्पताल ले जाया गया। वहां डॉक्टरों ने उन्हें देखते ही मृत घोषित कर दिया। 

घटना की सूचना मिलने पर डीएम मानवेंद्र सिंह, एसपी डॉ. ओपी सिंह समेत जिले के सारे अधिकारी मडावरा पहुंच गए। पुलिस के मुताबिक एसडीएम ने आत्महत्या क्यों की, इसका पता लगाया जा रहा है। यह भी पता किया जा रहा है कि उन्होंने अंतिम बार किससे फोन पर बात की थी। डीएम का कहना है कि हेमेंद्र ने कभी कोई परेशानी नहीं बताई थी। 

नहीं मिल पा रही थी छुट्टी 
तहसील कर्मचारियों के मुताबिक हेमेंद्र मुरादाबाद के रहने वाले थे। उनके परिवार में पत्नी, एक बेटा और एक बेटी है। परिवार इस समय बरेली में रह रहा है। सूत्रों के मुताबिक हेमेंद्र के बेटे की तबीयत काफी समय से खराब चल रही है। इसलिए वह छुट्टी लेकर कुछ दिन बेटे के पास रहना चाहते थे, लेकिन उन्हें छुट्टी नहीं मिल पा रही थी। 

इससे पहले इस महीने में ही कानपुर में तैनात आईपीएस ऑफिसर (एसपी सिटी) सुरेंद्र कुमार दास ने जहर खाकर खुदकुशी कर ली। वहीं गोरखपुर में पूर्वोत्तर रेलवे में उप मुख्य वाणिज्य प्रबंधक तरुण शुक्ला ने खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली थी। तरुण शुक्ला ने लाइसेंसी रिवाल्वर से खुद को गोली मार ली थी। 
 

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Join Our Whatsapp Group