गोदाम से बियर की केन गायब, अधिकारियों को चूहों पर शक

कैमूर
बिहार के कैमूर जिले में एक दिलचस्प मामला सामने आया है। बिहार में चूहे को इन दिनों कुछ ज्यादा ही शराब पीने की लत लगी हुई है। इतनी ज्यादा कि उनकी लीवर सिरोसिस की वजह से मौत भी हो सकती है! उन्हें देसी, विदेशी, बीयर और ब्रांडी में कोई फर्क नहीं मालूम है और वह अंधाधुंध शराब पीते जा रहे हैं। यहां स्थित एक गोदाम में भंडार करके रखे गए बियर के लगभग 200 केन गायब हो गए। 
  
मामला सामने आने पर हड़कंप मच गया। इधर, संबंधित अधिकारियों ने किसी कार्रवाई से बचने के लिए बियर के केन गायब होने का आरोप चूहों पर लगाया है। बिहार में अप्रैल 2016 से पूर्ण शराबबंदी लागू है। यहां समय-समय पर पुलिस, आबकारी और अन्य संबंधित विभागों द्वारा छापेमारी करके बरामद की गई शराब और बियर को जब्त करके भंडारगृह में रखा जाता है। 

यह सब चूहों की कारस्तानी: SDM 
भभुआ एसडीएम कुमारी अनुपमा सिंह ने इस पर संज्ञान लेते हुए कहा, 'ऐसा लग रहा है कि यह सब चूहों की कारस्तानी है। गोदाम में करीब 6 से 7 कार्टन थे और अब वह केन पूरी तरह खाली हैं।' 

 
विभाग के अधिकारी समय-समय पर भंडारगृह खाली करने के लिए जब्त की गई शराब और बियर को नष्ट करते हैं। कैमूर डीएम नवल किशोर चौधरी ने भी इसके पीछे चूहों को दोष दिया। उन्होंने कहा,' बीयर के केन चूहों ने दांत से काटे हैं। अगर यह इंसानों का काम होता तो वह केन को ढंग से काटते। हमने इस मामले में एक विस्तृत जांच के आदेश दिए हैं।' 

'कुछ बोतलें चूहे खींचकर ले गए' 
जैसे ही प्लास्टिक से सील केन उठाया गया। वह कटा हुआ मिला। कई केन गायब थे और कई में छेद थे। जिला आबकारी अधीक्षक प्रदीप कुमार ने बताया कि ऐसा लगता है कि बियर के केन चूहों ने कुतर दिए हैं, जिससे वे खाली हो गए हैं। वहीं हो सकता है कि कुछ बोतलें चूहे खींचकर ले गए हों। 

उन्होंने कहा कि हालांकि, स्पष्ट रूप से कुछ कह पाना अभी जल्दीबाजी होगी। पटना के जूलॉजिकल सर्वे ऑफ इंडिया के वैज्ञानिक गोपाल शर्मा बताते हैं, 'ऐसा संभव है अगर चूहे जिस स्थान पर है वहां पानी उपलब्ध नहीं है तो वह प्यास बुझाने के लिए कभी-कभी शराब का सेवन करने लगे लेकिन मैं इन दावों से सहमत नहीं हूं कि चूहों 100 लीटर शराब पी ली हो।' 

चूहों पर इल्जाम! 
वहीं अविभाजित बिहार और झारखंड के रिटायर्ड मुख्य सचिव वीएस दुबे ने कहा, 'अधिकारियों ने…या तो खुद शराब पी है या बेच दी है और चूहों पर इल्जाम लगा रहे हैं।' उल्लेखनीय है कि पिछले साल जब्त की गयी करीब 9 लाख लीटर शराब में से प्रदेश की राजधानी पटना में भारी मात्रा में चूहे द्वारा नष्ट कर दिए जाने की बात सामने आई थी ।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Join Our Whatsapp Group