पटना आसरा गृह: मरने वालीं युवतियों का आंकड़ा हुआ तीन

पटना
राजधानी पटना के राजीवनगर स्थित आसारा गृह की दो संवासिनों (युवतियों) की मौत की गुत्थी सुलझी भी नहीं थी कि शुक्रवार को एक और युवती की मौत हो गई है. युवती को गुरुवार को पीएमसीएच में इलाज के लिए भर्ती कराया था. शुक्रवार शाम को युवती की मौत हो गई. एक और युवती की मौत से इस आसरा होम में कुल युवतियों की मौत की संख्या तीन हो गई है.

जानकारी के मुताबिक, 27 साल की युवती को सांस लेने में तकलीफ हो रही थी और वो कुपोषण की भी शिकार बताई जा रही है. इस आसरा गृह की 9 अगस्त से अब तक 13 लड़कियां पीएमसीएच में भर्ती हो चुकी है और ये सभी कुपोषण की शिकार हैं.

इससे पहले गुरुवार देर रात राजीवनगर स्थित इस आसार गृह से दो युवती पुलिसिया पहरे के बीच संदिग्ध परिस्थिति में लापता हो गई थी. आसरा गृह प्रबंधन पर उस वक्त सवाल उठने लगे, जब इसका पता चलने के तीन घंटे के बाद पुलिस को सूचना दी गई.

दोनों युवतियों के लापता होने की खबर आसरा गृह प्रबंधन को गुरुवार सुबह नौ बजे ही मिल गई थी लेकिन वहां के अफसरों ने दोपहर 12 बजे इसकी खबर राजीवनगर थाने को दी. वहीं पीएमसीएच में कंट्रोल रूम की इंचार्ज डॉ. लिला सिंह ने बताया कि कल रात 9 बजे पीएमसीएच में भर्ती हुई थी. उसको काफी कमजोरी थी. डॉक्टरों ने उसकी जांच करके उसका पूरा इलाज किया. उसका इलाज चल रहा था लेकिन शुक्रवार को उसकी हालत बिगड़ने लगी और शाम 6 बजे उसकी मौत हो गई.

सुर्खियों में आने के बाद से यह आसरा गृह प्रशासन को सौंपा गया था. इसके बाद यहां की व्यवस्था में सुधार लाने का दावा किया था. आसरा गृह में वहां के दो प्राइवेट गार्ड के अलावा महिला सिपाही, दो होमगार्ड और अन्य जवान तैनात किये गए हैं.

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Join Our Whatsapp Group