बार-बार पेपर लीक से भर्तियों में लग रहा अड़ंगा

लखनऊ 
उत्तर प्रदेश में हो रहीं भर्ती परीक्षाएं और भर्तियां लगातार सवालों के घेरे में हैं। परीक्षाओं के पेपर बार-बार लीक हो रहे हैं और भर्तियां विवादों के चलते टल रही हैं। मामला चाहे यूपी पुलिस सिपाही भर्ती में गलत पेपर बंटने का हो या शनिवार को यूपीएसएसएससी की नलकूप ऑपरेटर परीक्षा का पेपर लीक होने का। हर बार सिस्टम की गलतियों का खमियाजा लाखों अभ्यर्थियों को झेलना पड़ रहा है। 
 

प्रदेश सरकार के करीब डेढ़ साल के कार्यकाल में अभी तक शुरू हुईं ज्यादातर भर्तियां और परीक्षाएं किसी न किसी विवाद में फंसकर लटक गई हैं। शनिवार को ही पुलिस विभाग में 526 फॉलोअर और संदेशवाहकों की भर्ती प्रक्रिया गड़बड़ियों की आशंका के कारण रोक दी गई है। इसके अलावा एसआई और जेई भर्ती परीक्षा का भी पेपर लीक हुआ। इस कारण दोनों परीक्षाएं निरस्त करनी पड़ीं। एसआई परीक्षा तो दोबारा हो गई लेकिन यूपीपीसीएल की जेई भर्ती अब भी अटकी है। 2849 पदों के लिए हुई जेई भर्ती परीक्षा में 1.94 लाख अभ्यर्थियों ने हिस्सा लिया था। इसके अलावा मथुरा में 150 से ज्यादा सहायक अध्यापकों की फर्जी दस्तावेजों के सहारे भर्ती हो गई। इसका खुलासा एसटीएफ की पड़ताल में हुआ। 

एसटीएफ ने कई बार की सिस्टम दुरुस्त करने की अपील 
कई परीक्षाओं की गड़बड़ी की जांच कर रही एसटीएफ के एक वरिष्ठ अधिकारी का कहना है कि परीक्षा करवाने वाली एजेंसी और संबंधित सरकारी विभागों के सिस्टम में कमियों के कारण बार-बार पेपर लीक हो रहे हैं। एसटीएफ ने कई बार संबंधित एजेंसियों और विभाग को पत्र लिखकर सिस्टम दुरुस्त करने के लिए भी कहा है। 

15 जुलाई को भी थी पेपर लीक की तैयारी 
15 जुलाई को हुई यूपीएसएसएससी की परीक्षा में भी पेपर लीक की तैयारी थी। एक पेपर वायरल भी हुआ था लेकिन वह फर्जी निकला। इस मामले में एसटीएफ ने प्रदेशभर से 51 लोगों को गिरफ्तार किया था। 

डेढ़ साल में पकड़े गए ये मामले 
14 मई 2017 को एसएससी मल्टिटास्किंग स्टाफ परीक्षा का पेपर वॉट्सऐप पर लीक, एसटीएफ ने दो को आगरा से गिरफ्तार किया।
यूपी पुलिस की एसआई भर्ती ऑनलाइन परीक्षा का पेपर लीक, एसटीएफ ने 22 अगस्त 2017 को पेपर हैक करने वाले गैंग के सात लोगों को गिरफ्तार किया।
एसटीएफ ने 10 और 12 नवंबर 2017 को हाई कोर्ट की ग्रुप सी और डी की परीक्षा में गड़बड़ी करने के आरोप में 20 लोगों को इलाहाबाद, गोरखपुर और लखनऊ से गिरफ्तार किया।
28 मार्च 2018 को एसटीएफ ने यूपीपीसीएल भर्ती परीक्षा के पेपर लीक और सॉल्वर गैंग का पर्दाफाश करते हुए 12 लोगों को गिरफ्तार किया।
17 मार्च 2018 को एसटीएफ ने मेरठ यूनिवर्सिटी में एमबीबीएस समेत अन्य परीक्षाओं की कॉपियां भेजकर बाहर से लिखवाने वाले गैंग का पर्दाफाश। आठ लोग गिरफ्तार।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button