बीजेपी का अखिलेश पर हमला, कहा-पिता और चाचा से नहीं निभा पाए, विपक्ष से कैसे निभाएंगे

लखनऊ 
भारतीय जनता पार्टी ने गुरुवार को एसपी मुखिया अखिलेश यादव पर जमकर निशाना साधा। उत्तर प्रदेश बीजेपी प्रवक्ता चंद्रमोहन ने कहा कि वह अपने पिता मुलायम सिंह यादव और चाचा शिवपाल यादव के साथ तो पारिवारिक गठबंधन निभा नहीं पा रहे हैं और बीजेपी विरोधी राजनीतिक गठबंधन बनाने की बात कह रहे हैं। बीजेपी नेता ने कहा, 'जिन व्यक्तियों ने उन्हें (अखिलेश) पाल-पोसकर राजनीति में खड़ा किया, उन्हीं से अखिलेश को खतरा हो गया है। इस सोच के चलते वह किसी अन्य दल से गठबंधन कैसे कर पाएंगे?' 
 

चंद्रमोहन ने कहा कि आज अखिलेश की राजनीति में जो हैसियत है, वह उनके पिता और चाचा की बदौलत ही है जिन्होंने एसपी की स्थापना कर उसे आगे बढ़ाया। उन्होंने कहा कि अखिलेश ने पहले तो अपने पिता से पार्टी का नेतृत्व छीना और अब उनकी घोर उपेक्षा भी कर रहे हैं। अपने पुत्र की कारगुजारियों से बेहद दुखी होकर मुलायम को सार्वजनिक मंच से कहना पड़ा कि आज उनका कोई सम्मान नहीं करता, शायद मरने के बाद करे। 

 
बीजेपी नेता ने कहा कि इस बयान से ही साबित हो जाता है कि मुलायम किस पीड़ा से गुजर रहे हैं। मुलायम ही अखिलेश को राजनीति में लाए थे और पार्टी में तमाम बड़े नेताओं को किनारे करके मुख्यमंत्री की कुर्सी पर बैठाया था। उन्होंने कहा कि आज अखिलेश अपने पिता और चाचा को हाशिए पर धकेलकर मायावती के सामने हाथ जोड़कर खड़े हैं। इसके बावजूद मायावती अखिलेश को गंभीरता से नहीं ले रही हैं। खुद वह अपने बयान में अखिलेश को राजनीतिक रूप से अपरिपक्व कह चुकी हैं। 

बीजेपी प्रदेश प्रवक्ता ने कहा कि बीजेपी विरोधी गठबंधन करने के लिए अखिलेश ने बीएसपी सुप्रीमो के सामने समर्पण कर दिया है। बीएसपी के शासनकाल में मुख्यमंत्री रहीं मायावती ने एसपी समर्थकों पर काफी जुल्म ढहाए थे। इसी जुल्म का विरोध करने के लिए मुलायम को एसपी कार्यकर्ताओं के साथ सड़क पर उतरना पड़ा था। अखिलेश ने भी अपने मुख्यमंत्रित्वकाल के दौरान अपनी कथित नाकामियों का ठीकरा मायावती की सरकार पर फोड़ा था।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Join Our Whatsapp Group