बीजेपी ने जातीय जनगणना में आशंकाओं को फिर दोहराया, सीएम नीतीश ने किया किनारा

पटना

बिहार में जातीय जनगणना को लेकर तैयारी की जा रही है। इस बीच भाजपा ने सर्वेक्षण में बांग्लादेशी और रोहिंग्या को लेकर चिंता जताई है। वहीं मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इससे किनारा कर लिया है।  सीएम नीतीश से जब पत्रकारों ने भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ संजय जायसवाल द्वारा इन आशंकाओं को लेकर प्रश्न पूछा गया, तो उन्होंने 'पता नहीं' कहकर निकल गए और इस सवाल से ही किनारा कर लिया।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शनिवार को कहा कि बिहार में बहुत अच्छे से ढंग से हर परिवार की जाति आधारित गणना की जाएगी। हर समुदाय का चाहे वे किसी भी धर्म को माननेवाले हों, सबकी पूरी गणना होगी। ये भी जानने की कोशिश होगी कि उनकी आर्थिक स्थिति क्या है। यह गणना सबके पक्ष में है, किसी के खिलाफ नहीं है। हर कम्युनिटी के पक्ष में है। इसी के आधार पर विकास के लिए और क्या-क्या सहयोग करना है, एक-एक बात की जानकारी होगी। सर्वदलीय बैठक के आधार पर ही जाति आधारित गणना के लिए कैबिनेट का निर्णय हुआ है। इसके लिए संबद्घ विभाग पूरी तैयारी कर रहा है। इस काम में जिनलोगों को जिम्मेदारी दी जाएगी, उनकी भी ट्रेनिंग करायी जाएगी।

Related Articles

Back to top button