दरभंगा में एसिड अटैक, जमीन विवाद में भिड़े दो पक्ष; तेजाब से एक ही परिवार के चार सहित छह लोग झुलसे

दरभंगा
दरभंगा जिले के एपीएम थाने के शिवैसिंहपुर गांव में शुक्रवार को जमीन विवाद में दो पक्षों में जमकर मारपीट हुई। इस दौरान शरीर पर तेजाब गिरने से दोनों पक्षों के छह लोग घायल हो गए। घायलों में दो महिलाएं भी शामिल हैं। चार घायलों का इलाज डीएमसीएच व दो का इलाज निजी क्लिनिक में चल रहा है। डीएमसीएच में एक पक्ष के बजरंगी साह और दूसरे पक्ष के मोहन भगत के पुत्र विकास कुमार, अशोक भगत और विजय कुमार का इलाज चल रहा है। एक पक्ष के बजरंगी साह की पत्नी उषा देवी ने कहा कि श्रीपुर बहादुरपुर निवासी मोहन भगत ने अपने परिजनों के साथ उनके पति की सोने-चांदी की दुकान में आकर मारपीट की। पति जान बचाने के लिए जेवर साफ करने वाला एसिड लेकर आए। एसिड की बोतल की छीनाझपटी में लोग घायल हो गए। उधर, मोहन के परिजनों ने बताया कि वे लोग विवादित जमीन पर फसल लगाने गए थे। बजरंगी वहां एसिड की बोतल लेकर पहुंचा और विकास के सिर पर दे मारा। एपीएम थानाध्यक्ष शैलेश कुमार ने बताया कि बेंता ओपी पुलिस बयान ले रही है।

इस बंगाल पर हमें कितना नाज?
एपीएम थाने के शिवैसिंहपुर गांव में भूमि विवाद को लेकर शुक्रवार की शाम करीब पांच बजे हुई मारपीट की घटना को लेकर आ रहे अलग-अलग बयान से मामला उलझ गया है। घटना के लिए कौन-कौन लोग दोषी हैं, इसका खुलासा पुलिस की जांच में होगा। घटना के बारे में बजरंगी साह की पत्नी उषा देवी का कहना है कि उनका श्रीपुर बहादुरपुर निवासी मोहन भगत के साथ वर्ष 2007 से ही भूमि विवाद चल रहा है। शुक्रवार की शाम बजरंगी साह अपनी दुकान में बैठे थे। तभी मोहन भगत के परिजन अपने समर्थकों के साथ दुकान पर आ धमके और कुदाल समेत लाठी-डंडे से हमला कर दिया। चारों तरफ से हमला होते देख बजरंगी जेवर साफ करने के काम आने वाला एसिड छिड़कने लगा। एसिड की बोतल की छीनाझपटी में दोनों पक्षों से चार लोग घायल हो गए। उसी वक्त दुकान में बैठी एक महिला ग्राहक बीच-बचाव करने लगी, लेकिन उसे भी हमलावरों ने पीट दिया।

हल्ला सुनकर दौड़ी आयी बजरंगी की पत्नी उषा देवी की भी हमलावरों ने जमकर पिटाई कर दी। उधर, डीएमसीएच में इलाजरत मोहन भगत ने कहा कि मेरे परिवार के लोग खेत में पौधे लगा रहे थे। इसी दौरान बजरंगी साह वहां पहुंचा और पौधे लगाने से मना किया। मैंने जब कहा कि क्यों रोक रहे हो तो उसने मुझ पर एसिड से हमला कर दिया। वहीं, मोहन की पतोहू रूबी देवी ने कहा कि मेरा बेटा आयुष (10) खेत पर पौधे लगाने गया था। उसे नहीं पता था कि इस जमीन को लेकर विवाद चल रहा है।

बजरंगी के परिजनों ने उसे पौधे लगाने से मना किया। तब मेरे पति विकास कुमार वहां पहुंचे। इसी दौरान विवाद शुरू हो गया। रूबी ने कहा कि विवाद के दौरान बजरंगी साह और उनकी पत्नी उषा देवी ने मेरे पति और बेटे पर एसिड से हमला कर दिया। तब तक मेरे देवर भी वहां पहुंच गए। उन लोगों पर भी एसिड अटैक किया गया। रूबी ने कहा कि इस घटना में मेरे परिवार के चार लोग घायल हुए हैं। इनमें से एक की हालत गंभीर है। चारों का इलाज डीएमसीएच में चल रहा है। फिलहाल इस मामले में प्राथमिकी दर्ज नहीं हो पायी है।

Related Articles

Back to top button