दृढ़ इच्छा शक्ति से दूर हो सकती है नशे की लत: शासन सचिव, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता

जयपुर। सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के शासन सचिव डॉ. समित शर्मा ने कहा कि नशे से हमारी युवा पीढ़ी बर्बाद हो रही है। नशा शरीर से अधिक हमारे दिमाग को अपना गुलाम बना लेता है। दृढ़ इच्छा शक्ति व समता के भाव से नशे की लत को दूर किया जा सकता है।

डॉ. शर्मा दुर्गापुरा, जयपुर स्थित नव विकल्प नशा मुक्ति संस्थान के 18वें स्थापना दिवस के अवसर पर बुधवार को सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग तथा नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो के तत्वाधान में आयोजित नशा विरोधी गोष्ठी को संबोधित कर रहे थे।

नारकोटिक्स कंट्रोल बयूरो के अधिकारी श्री राम सहाय ने कहा कि नशा शरीर के लिए सबसे घातक बुराई है। उन्होंने संस्थान द्वारा किये जा रहे नशा विरोधी प्रयासों की सराहना की।

संस्थान अध्यक्ष श्री हरीश भूटानी ने कहा की 18 वर्ष पहले जब यह संस्था शुरू की गयी, तब समाज में किसी को यकीन ही नहीं होता था कि नशे की बीमारी का कोई इलाज भी संभव है लेकिन अब समाज में नशे की बीमारी को लेकर लोगों में जागृति आ रही है।

इस अवसर पर नगर निगम के पार्षद श्री जय वशिष्ठ, संस्थान के कार्मिक स्टाफ व आमजन उपस्थित थे।

Related Articles

Back to top button