यूपी के बाद उत्तराखंड में धार्मिक स्थलों से लाउड स्पीकर हटाने की कार्रवाई शुरू, 258 लाउड स्पीकर हटाए गए

 हरिद्वार
 
उत्तर प्रदेश के बाद अब उत्तराखंड पुलिस ने राज्य में धार्मिक स्थलों से लाउडस्पीकर हटाने का अभियान शुरू कर दिया है। पुलिस के मुताबिक अबतक 258 धार्मिक स्थलों से लाउड स्पीकर हटाए गए हैं। पुलिस के मुताबिक हाई कोर्ट के आदेश के बाद पुलिस लाउड स्पीकर हटाने का अभियान चला रही है। पुलिस के मुताबिक राज्य के सभी जिलों में लाउड स्पीकर हटाने का अभियान चलाया जा रहा है। लाउड स्पीकर की कार्रवाई को लेकर विपक्षी दल उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, बिहार और कर्नाटक जैसे राज्यों में भी लाउड स्पीकर हटाने की कार्रवाई करने की मांग कर रहे हैं।

गौरतलब है कि पिछले दिनों उत्तर प्रदेश सरकार ने राज्य में लाउड स्पीकर हटाने का अभियान शुरू किया था। इस दौरान कई धार्मिक स्थलों से लाउड स्पीकर हटाए गए वहीं कर्नाटक ने रात 10 बजे से सुबह 6 बजे के बीच लाउड स्पीकर के इस्तेमाल पर रोक लगा दी गई है।

कर्नाटक सरकार ने सर्कुलर जारी कर कहा था कि ऑडिटोरियम, कॉन्फ्रेंस रूम, कम्युनिटी हॉल और बैंक्वेट हॉल या बंद परिसरों को छोड़कर बाकी किसी भी जगह पर रात दस बजे से सुबह 6 बजे के बीच लाउड स्पीकर का इस्तेमाल नहीं किया जा सकेगा। सर्कुलर में सुप्रीम कोर्ट के उस आदेश का हवाला दिया गया है जिसमें कहा गया है कि सार्वजनिक स्थानों पर लाउड स्पीकर का उपयोग नहीं किया जा सकता। कोर्ट के आदेश के मुताबिक शोर का स्तर शोर के तय मानकों मानकों से 10 डीबी (ए) से अधिक नहीं होना चाहिए।
 
पिछले दिनों यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने घोषणा की कि उनकी सरकार ने धार्मिक स्थलों से हजारों लाउडस्पीकर हटा दिए हैं। एमएनएस चीफ राज ठाकरे ने इस कदम की प्रशंसा करते हुए महाराष्ट्र सरकार पर निशाना साधा था। उन्होंने ट्वीट कर कहा था 'धार्मिक स्थलों, खासकर मस्जिदों से लाउडस्पीकर हटाने के लिए मैं तहे दिल से योगी सरकार को बधाई देता हूं और योगी सरकार का आभारी हूं।'

 

Related Articles

Back to top button