यूपी चुनाव में बुलडोजर को मिली पब्लिसिटी ,बढ़ी डिमांड

लखनऊ
 उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में योगी सरकार ने ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी 3.0 (Ground Breaking Ceremony 3.0) का आयोजन  किया। इसमें पीएम नरेंद्र मोदी, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह समेत तमाम मंत्री के साथ ही देश के कई जाने-माने उद्योगपति भी शामिल हुए। कार्यक्रम के दौरान बुलडोजर ने सभी को अपनी ओर आकर्षित किया। सीएम योगी को चाहने वाले लोग उन्हें प्यार से बुलडोजर बाबा भी कहते हैं। वहीं, कंपनी के सेल्स हेड ने बताया कि चुनाव में जिस तरह से बुलडोजर को पब्लिसिटी मिली है, उसके कारण अब मार्केट में भी इसकी डिमांड बढ़ती जा रही है।

बुलडोजर में दम
हाल ही में सम्पन्न हुए 2022 विधानसभा चुनाव में जिस तरह से बाबा के बुलडोजर की खूब धमक देखने को मिली, वैसे ही शुक्रवार को ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी कार्यक्रम के दौरान भी बुलडोजर चर्चा का विषय बन गया। चेन्नै की कैट कंपनी ने इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में एक स्टाल लगाया था, जिसे देखने के लिए लोग खुद को रोक नहीं पाए।

सेल्स हेड ने कही ये बात
कैट कंपनी के लखनऊ के सेल्स हेड हेमंत ने बताया कि कंपनी की मैन्युफैक्चरिंग यूनिट चेन्नै में है। उन्होंने बताया कि बुलडोजर को यहां शो केस करने की कोई खास वजह तो नहीं थी, लेकिन इन्वेस्टमेंट के लिहाज से आए उद्योगपतियों का ध्यान आकर्षण जरूर है। कंपनी का कहना है कि बुलडोजर अब उत्तर प्रदेश की पहचान बन चुका है।

बुलडोजर का क्रेज बरकरार

उत्तर प्रदेश में बाबा का बुलडोजर विधानसभा चुनाव ही नहीं, बल्कि चुनाव के बाद भी अपनी धमक बरकरार रखे हुए है। लगातार अपराधियों, माफियाओं की अवैध रूप से अर्जित की गई अकूत संपात्ति और अवैध निर्माण पर बुलडोजर चल रहा है। यही कारण है कि चुनाव बाद भी बाबा का बुलडोजर आकर्षण का केंद्र बन गया है।

यूपी में लगातार गरज रहा बुलडोजर
सीएम योगी आदित्यनाथ भी कई बार अपने बयानों में बुलडोजर की अहमियत का जिक्र कर चुके हैं। उन्होंने अपने एक बयान में कहा था कि बुलडोजर उत्तर प्रदेश में एक्सप्रेस-वे बनाने के भी काम आ रहा है और अपराधी- माफियाओं की अवैध संपत्ति को ध्वस्त करने का भी काम करता है।

Related Articles

Back to top button