गरियाबंद के 78 हजार किसानों के खाते में पहुंचा 56 करोड़ 43 लाख की राशि

गरियाबंद। पूर्व प्रधानमंत्री एवं  भारत रत्न स्वर्गीय राजीव गांधी के पुण्यतिथि के अवसर पर मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने आज वर्चुअल कार्यक्रम के माध्यम से राज्य के किसानों, पशुपालकों  और भूमिहीन मजदूर परिवारों के खाते में 1800 करोड़ रुपए अंतरित किये। वर्ष 2021 की पहली किस्त के रूप में गरियाबंद के 78 हजार 991 किसानों को 56 करोड़ 43 लाख  रुपए सीधे उनके खाते में अंतरित किये। गरियाबंद में जिला स्तरीय कार्यक्रम स्थानीय कृषि उपज मंडी में आयोजित हुआ जिसमें मुख्य अतिथि प्रथम पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री एवं राजिम विधायक श्री अमितेश शुक्ल थे, उन्होंने मौजूद हितग्राहियों को चेक वितरित किये गये। इस दौरान  कलेक्टर नम्रता गांधी, पुलिस अधीक्षक श्री जे. आर. ठाकुर, जिला पंचायत सीईओ श्रीमती रोक्तिमा यादव, सहित स्थानीय जनप्रतिनिधि एवं हजारों की संख्या में किसान हितग्राही मौजूद थे।

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने गरियाबंद जिले में राजीव गांधी किसान न्याय योजना की वर्ष 2021 की पहली किस्त के रूप में 78 हजार 991 किसानों को 56 करोड़ 43 लाख  रुपए सीधे किसानों के खाते में अंतरित किये। इसमे मक्का, मूंग और उड़द फसल बोने के लिए 1 करोड़ 56 लाख रुपये और फसल चक्र परिवर्तन के लिए 2 लाख 50 हजार रुपये शामिल है। यह राशि मुख्यमंत्री द्वारा  बटन दबाकर किसानों के खाते में सीधे अंतरित किया गया। इसी तरह गोधन न्याय योजना अंतर्गत 01 मई से 15 मई तक क्रय किये गये गोबर की राशि का भुगतान 442 किसानों को 5 लाख 54 हजार रुपए की धनराशि खाते में अंतरित किये। राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना अंतर्गत वर्ष 2022- 23 का प्रथम किश्त के रुप में 13 हजार 940 हितग्राहियों के खाते में 2 हजार रुपए के मान से कुल 2 करोड़ 78 लाख 80 हजार रुपए मजदूरों के खाते में अंतरित किये गये।

इस अवसर पर कार्यक्रम के मुख्य अतिथि श्री अमितेश शुक्ल ने कहा कि मुख्यमंत्री के नेतृत्व में राज्य में किसान,मजदूर, गरीब खुशहाल है। राज्य में किसान और गरीबो को हजारों करोड़ रुपये दिए गए, ताकि उन्हें समृद्ध बनाया जा सके। गोधन न्याय योजना के तहत गौ माता की सेवा का कार्य कर रही है। उनकी सुरक्षा और सम्मान के लिए राज्य  संकल्पित है।
राजीव गांधी किसान न्याय योजना अंतर्गत ग्राम नहरगांव के किसान श्री नारद राम सिन्हा ने बताया कि वर्ष 2021 के प्रथम किस्त के रूप में उन्हें

37 हजार रुपये खाते में प्राप्त हुआ। ग्राम सढ़ौली के तुगनध्वज को भी 37 हजार रुपए का चेक प्राप्त हुआ। इसी तरह ग्राम कोचवाय के जैतराम को भी चेक प्रदान किया गया। किसानों ने हर्ष व्यक्त करते हुए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को धन्यवाद ज्ञापित किया है। किसानों ने कहा कि सही समय पर पैसा मिलने से उसकी महत्ता बढ़ जाती है। श्री बघेल एक संवेदनशील मुख्यमंत्री है और किसानों के मन की बात को भलिभांति जान जाते हैं।
ग्राम सढ़ौली के महिला समूह के सदस्य श्रीमती सुरेखा बाई एवं श्रीमती गीतेश्वरी को 6-6 हजार रुपए का चेक प्रदान किया गया। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार हम जैसे पशुपालकों के लिए आय का अतिरिक्त साधन प्रदान कर रहा है। अब हमे चिंता नहीं होती कि गोबर का पैसा सही समय पर मिलेगा या नहीं। कार्यक्रम में मौजूद हितग्राही ग्राम केशोडार के जीवन निषाद ने बताया कि वे मजदूरी कर अपना और परिवार का जीवनयापन चलाते है। लेकिन मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने हम जैसे भूमिहीन किसानों के दर्द को समझा और हमे 7 हजार रुपए प्रतिवर्ष देकर हमें आर्थिक सुरक्षा प्रदान किया। उन्होंने बताया कि आज प्रथम किस्त के रूप में 2 हजार रुपये खाते में प्राप्त हुआ। साथ ही किसानों को धान के बदले में अन्य फसल बोने के लिए उड़द, मूंग, अरहर बीज प्रदान किया गया।

राजीव गांधी आश्रय योजना अंतर्गत गरियाबंद निवासी कौशिल्या निर्मलकर, लीलाबाई साहू, परभीना बाई को अधिकार पत्र प्रदान किया गया। कार्यक्रम में जिला पंचायत सदस्य श्रीमती लक्ष्मी साहू, जनपद उपाध्यक्ष श्री प्रवीण यादव, श्री ओम राठौर, कृष्ण कुमार शर्मा,प्रेम सोनवानी एवं अन्य जनप्रतिनिधि और बड़ी संख्या में हितग्राही मौजूद थे।

Related Articles

Back to top button