मुख्यमंत्री ने भेंट-मुलाकात में आमजनों का जाना हालचाल

कांकेर
भेंट-मुलाकात कार्यक्रम के तहत कांकेर विधानसभा के बादल ग्राम पहुंचे मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आमजनों का हालचाल जाना। इस दौरान राधिका पांडे ने बताया कि बेटी लावण्या का वजन कराने पर पता चला कि वो कमजोर है, आंगनबाड़ी से दलिया मिलता है, गर्म खाना भी मिलता है।।।। उसने बताया कि अब उसकी बेटी स्वस्थ हो रही है, तो मुख्यमंत्री ने कहा कि बच्चे मजबूत रहेंगे तभी छत्तीसगढ़ मजबूत रहेगा।राधिका पांडे ने बताया कि बेटी लावण्या का वजन कराने पर पता चला कि वो कमजोर है, आंगनबाड़ी से दलिया मिलता है, गर्म खाना भी मिलता है।

मुख्यमंत्री से सुरेश पटेल, रिसेवाड़ा ने बताया कि ढाई लाख का कर्ज माफ हुआ है। आठ एकड़ जमीन है। राजीव गांधी न्याय योजना में 25 हजार रूपए की पहली किश्त आई है। सुरेश ने बताया कि इन पैसों से खेत में घेरा करा दिया है। गणेश नाथ जोगी ने मुख्यमंत्री को बताया कि मैं भूमिहीन ग्रामीण कृषि मजदूर न्याय योजना में मुझे पैसा नहीं मिला। आवेदन लगाया तो बताया गया कि दादा के नाम 6 एकड़ जमीन है। न तो भूमिहीन मान रहे हैं न ही भूमि स्वामी मान रहे हैं। मुख्यमंत्री ने समस्या को गंभीरता से लेते हुए कलेक्टर को निराकरण के निर्देश दिए।

धमसिंह साहू ने बताया कि मेरी 4 एकड़ जमीन में से दूसरे ने 55 डिसमिल जमीन कब्जा कर लिया, उन्होंने अपनी समस्या बताई और कहा कि कोर्ट आदेश के बाद भी तहसीलदार सुनवाई नहीं कर रहे हैं जिस पर मुख्यमंत्री ने कहा- तुम्हारी जमीन है, तुम्हें कब्जा मिलेगा। रानी जैन ने बताया कि वो गौठान में काम करती हैं। 125 क्विंटल वर्मी कंपोस्ट बनाए हैं और 49 हजार खाते में बचा हुआ है। दो साल से एक एकड़ में सब्जियां उगा रहे हैं, एक लाख रूपए तक की सब्जियां बेचे हैं। इन पैसों से बकरी और मुर्गी पालन कर रहे हैं। मुख्यमंत्री ने बधाई दी और बकरी शेड की स्वीकृति भी दी।

Related Articles

Back to top button