दंतेश्वरी शक्तिपीठ दंतेवाड़ा नवरात्र के लिए सज कर हो गया तैयार

दंतेवाड़ा
जिला मुख्यालय में स्थित मां दंतेश्वरी शक्तिपीठ नवरात्र के लिए सज कर तैयार हो गया है। दंतेश्वरी मंदिर से लेकर बस स्टैंड चौक, डंकनी पुल तक विशेष लाइटिंग की गई है, जिसकी वजह से शक्तिपीठ का दृश्य शाम ढलते ही बेहद सुंदर हो जाता है। जय स्तंभ चौक में भी विशेष साज सज्जा की गयी है। दंतेवाड़ा कलेक्टर विनीत नंदनवार नवरात्र की तैयारी का जायजा लेने स्वयं मौके पर पंहुचकर सातधार सहित दंतेवाड़ा, गीदम मार्ग पर बनाए गए सुविधा केंद्र देखा और आवश्यक निर्देश दिये।

मंदिर पहुंचने वाले पदयात्रियों की सुविधा के लिए जिले में 15 पदयात्री सेवा, सुविधा केंद्र बनाए गये हैं। बीजापुर की तरफ से आने वाले पदयात्रियों के लिए फरसपाल में और सुकमा व बैलाडीला की तरफ से आने वाले पदयात्रियों के लिए सातधार में सुविधा केंद्र स्थापित किया जा रहा है। बालूद व कुम्हाररास में पूर्व के वर्षों में संचालित सेवा केंद्रों को हटाने का निर्णय लिया गया है। इसके अलावा जगदलपुर मार्ग की ओर से आने वाले पदयात्रियों के लिए बागमुंडी पनेड़ा, जावंगा और हारम चौक गीदम में भी समिति के सहयोग से सेवा केंद्र चलाया जाएगा। नदी घाट में महिलाओं के स्नान व चेंजिंग के लिये अस्थायी चेंजिंग रूम बनाये जा रहे हैं। नवरात्र में मांईजी का दर्शन करने वीआईपी भी बड़ी संख्या में पहुंचते हैं। लेकिन इस वर्ष किसी भी वीआईपी की गाड़ी मंदिर के सामने तक नहीं जा सकेगी, इसमें केवल वीवीआईपी को ही छूट दी गयी है।

प्रतिवर्ष की भांति इस वर्ष भी मां दंतेश्वरी मंदिर में श्रद्धालुओं द्वारा मनोकामना ज्योत जलाये जायेंगे। इसके लिये ज्योति कलश भवन में भी तैयारियां पूरी कर ली गयी हैं। टेंपल कमेटी द्वारा तेल ज्योत के लिये एक हजार एक सौ रुपए और घी के ज्योत के लिये दो हजार एक सौ रुपए निर्धारित किये गये हैं। शनिवार की शाम तक आठ हजार से ज्यादा ज्योति कलश प्रज्वलन के लिये रसीदें काटी जा चुकी हैं। तेल व घी ज्योति कलश प्रज्वलित करवाने के इच्छुक श्रद्धालुओं के लिए पुराने काउंटरों के अलावा आॅनलाईन बुकिंग की सुविधा भी उपलब्ध है। मां दंतेश्वरी डॉट इन पर भी ज्योति कलश की रसीद घर बैठे कटवाई जा सकती है। हाल ही में इस वेबसाईट को शुरू किया गया है। दर्शन केलिए भी आॅन लाईन पंजीयन कराये जा सकते हैं

टेंपल कमेटी व जिला प्रशासन द्वारा दर्जन भर से ज्यादा सुविधा केंद्रों का निर्माण किया कराया गया है। यहां पदयात्रियों के रूकने, जलपान, शयन आदि की व्यवस्था की जायेगी। इसके साथ ही मेडिकल टीम भी हर सुविधा केंद्र में मौजूद रहेगी। बचेली रोड में एसबीआई के सामने, दंतेवाड़ा गीदम मार्ग पर कारली, सुकमा मार्ग पर मैलावाड़ा, नकुलनार, सातधार में भी पदयात्री सेवा केंद्र संचालित होंगे।

शारदीय नवरात्र में लाखों की संख्या में श्रद्धालु मांई जी के दर्शन के लिये दंतेवाड़ा पहुंचते हैं। दंतेश्वरी मंदिर वाहनों से आने वाले भक्तों की गाडि?ों की पार्किंग के लिए व्यवस्था की गयी है। गीदम व जगदलपुर और सुकमा की तरफ से आने वालों के लिए हाईस्कूल ग्राउंड और इंडोर स्टेडियम के पास पार्किंग की व्यवस्था की गयी है। दंतेवाड़ा कलेक्टर विनीत नंदनवार ने बताया कि दर्शन के लिये पहुंचने वाले श्रद्धालुओं को किसी तरह की परेशानी न हो इसका पूरा ध्यान रखा जा रहा है। भीड़ को नियंत्रित करने के लिये पुलिस के साथ ही एनएनसी कैडेट व विभिन्न संगठनों की मदद ली जा रही है। सभी सुविधा केंद्र में मेडिकल स्टाफ भी मौजूद रहेगा। भक्तों को कोई परेशानी न हो इस बात का पूरा ख्याल रखा जायेगा।

Related Articles

Back to top button