यातायात सिपाही के वायरलेस सेट से डॉक्टर की सिर पर चोट, निलंबित

रायपुर
तीन सवारी स्कूटी पर जा रहे जूनियर डॉक्टर को रोकने की कोशिश चौक पर तैनात यातायात सिपाही ने की जिससे वायरलेस सेट जोर से उनमें से एक डॉक्टर के सिर पर लगा और खून निकलने लगा। जैसे तैसे वे हास्पिटल पहुंचे और इलाज के बाद अन्य सहयोगियों को खबर दी,नाराज डाक्टरों ने पुलिस में शिकायत की है कि उनके साथी को डंडे से वार किया गया है जिससे सिर फट गया है। एसएसपी ने सिपाही को निलंबित कर दिया है। डाक्टरों ने कार्रवाई न होने पर हड़ताल पर जाने की धमकी दे दी थी।

बताया गया है कि घटना सोमवार  रात की है,अंबेडकर अस्पताल के एक जूनियर डॉक्टर का सिर फट गया। अपने साथी को लहूलुहान देखकर जूनियर डॉक्टर एसोसिएशन के पदाधिकारी गुस्से में आ गए और हड़ताल की धमकी दे डाली।

असल में अंबेडकर अस्पताल में मेडिकल की पढ़ाई कर रहे शिवांश सिंह अपने कुछ साथियों के साथ स्कूटी में ट्रिपल सवारी तेलीबांधा की ओर से लौट रहे थे। रास्ते में तैनात यातायात सिपाही राजनारायण ध्रुव ने इन युवकों को रोकने की कोशिश करते हुए अपने वायरलेस सेट से सिर पर वार कर दिया। शिवांश स्कूटी से लडखड़ा गए और आगे निकल गए। उन्हें चोट लग चुकी थी, अंबेडकर अस्पताल में ही उनका इलाज किया गया। जूनियर डॉक्टर एसोसिएशन ने बताया कि शिवांश का सिटी स्कैन कराया गया जहां दिमाग में ब्लड आने की बात पता चली। प्राथमिक उपचार के बाद शिवांश की अस्पताल में ही देखरेख की जा रही है।

घटना की जानकारी सामने आने के बाद अंबेडकर अस्पताल के जूनियर डॉक्टर एसोसिएशन का गुस्सा फूटा। उन्होंने पुलिस पर आम लोगों के साथ इस तरह की ज्यादती करने का आरोप लगाते हुए कहा कि शिवांश को डंडे से मारा गया है। अब खबर है कि रायपुर के एसएसपी प्रशांत अग्रवाल ने आरक्षक राजनारायण ध्रुव को इस मामले में निलंबित कर दिया है।

Related Articles

Back to top button