दो दिनों की बारिश में दर्जनों गांवों का जिला मुख्यालय से टूटा संपर्क

बीजापुर

जिले में दो दिनों हो रही बारिश के बाद ग्राम कोडोली में बहने वाली मरी नदी, चेरपाल नाला और धनोरा नाला उफान पर है। कोडोली के ग्रामीणों के घरों और तालनार के संजयपारा के स्कूल में मरी नदी के बाढ़ का पानी पंहुच गया है। इसके साथ ही मिरतुर, चेरपाल-गंंगालूर, रेड्डी, बोरजे, तोयनार, मोरमेड, समेत दर्जनों गांवों का जिला मुख्यालय से संपर्क टूटा गया है। कुछ ग्रामीणों को बाढ़ प्रभावित इलाकों से निकालकर सुरक्षित जगह पर पहुंचाया गया है। मौके पर आपदा प्रबंधन की टीम मौजूद है।

बीजापुर जिले में लगातार हो रही मूसलाधार बारिश से जिले के छोटे बड़े नदी नाले उफान पर है, मिनगाचल नदी पूरे शबाब पर है। नेशनल हाइवे 163 पर मौजूद सीआरपी एफ 222 बटालियन की कैम्प में पानी भरने लगा है, निचले स्तर में बने बैरकों में कई फीट पानी घुस चुका है। एहतियातन जवानों ने कैम्प को खाली करना शुरू कर दिया है। बारिश के नही रुकने और जल स्तर बढ?े से सीआरपीएफ कैम्प डूबने की आशंका बनी हुई है।

Related Articles

Back to top button