गढ़बो नवा रायपुर – शहर में 80 मोहल्ला क्लिनीक की स्थापना की जाएगी

रायपुर
नगर निगम रायपुर में कोविड-19 के बाद पहला मौका है जब बजट पेश किया गया है। 1474 करोड़ 24 लाख का यह बजट शहर के महापौर एजाज ढेबर ने पेश किया। साल 2022-23 के वित्तीय वर्ष का ये बजट करीब 90 लाख 74 हजार घाटे का है।यहां भी बजट पेश करने महापौर गोबर से बना ब्रीफकेस लेकर नगर निगम पहुंचे थे। इस बजट को लेकर महापौर ने कहा कि इसमें सभी वर्गों का ध्यान रखा गया है। स्वास्थ्य और शिक्षा जैसी सुविधाओं को लेकर इस बजट में खास ध्यान दिया गया है, जिसकी मांग शहर की जनता कर रही थी। इधर यूजर चार्ज व संपत्ति कर आधा और गोलबाजार के व्यापारियों की मांग को लेकर भाजपा के पार्षद शुरू से ही विरोध प्रदर्शित कर रहे। काफी मान मनौव्वल के बाद वे सदन में आए। इससे पहले सभापति प्रमोद दुबे बार-बार सदन में राज्यपाल की मौजूदगी पर सदन की गरिमा बनाये रखने विपक्षी पार्षदों से आग्रह करते रहे।

महापौर ढेबर ने वैसे तो लंबा चौड़ा बजट पेश किया है लेकिन कुछ प्रमुख बातों पर एक नजर-
1-रायपुर नगर निगम के 10 जून इलाकों में नई 10 एंबुलेंस होगी, जो उस इलाके के लोगों के स्वास्थ्य सुविधाओं में मदद करेंगी।
2-रायपुर नगर निगम के 10 जोन इलाकों में डी फ्रीजर रखा जाएगा। मोहल्लों में यदि किसी व्यक्ति की मौत हो जाए तो शव के लिए फ्रीजर की सुविधा दी जाएगी।
3-गरीब तबके के लोगों के लिए रायपुर शहर के हर मुक्तिधाम में दाह संस्कार के लिए गोबर से बनी गौ काष्ठ उपलब्ध कराई जाएगी।
4-रायपुर के भाटागांव इलाके में निर्धन परिवार के बच्चों के लिए बिन्नी भाई सोनकर उत्कृष्ट विद्यालय के नाम से अंग्रेजी स्कूल शुरू किया जाएगा।
5-लोगों की घरेलू जरूरतों के लिए भी नगर निगम काम करेगा। लोगों को कारपेंटर, प्लंबर , टीवी रिपेयर, फ्रिज रिपेयर, कूलर मैकेनिक जैसी सुविधाएं एक मोबाइल ऐप और वेबसाइट के जरिए दी जाएगी । स्थानीय युवकों को काम भी मिलेगा।
6-रायपुर शहर में 80 मोहल्ला क्लीनिक की स्थापना की जाएगी। हर मोहल्ला क्लीनिक के लिए 25- 25 लाख रुपए की स्वीकृति राज्य सरकार देगी। 70 वार्ड में यह क्लीनिक खोले जाएंगे।
7-रायपुर शहर के तात्यापारा -फूल चौक स्थित सड़क को 30 करोड़ की लागत से चौड़ा किया जाएगा।
8-कोरोना काल से सीख लेकर रायपुर नगर निगम 5 लाख रुपये तक सभी कर्मचारियों अधिकारियों का बीमा करेगा।
9-रायपुर शहर के 70 वार्डों में विकास कार्य के लिए हर पार्षद को 10 लाख रुपए दिए जाएंगे।

राज्य गीत गाकर सभी पार्षदों की मौजूदगी में नगर निगम की सामान्य सभा शुरू की गई थी। सभा शुरू होते ही भारतीय जनता पार्टी के पार्षदों ने यूजर चार्ज, गोल बाजार के दुकानों में लगाए जाने वाले शुल्क जैसे मुद्दों को लेकर विरोध शुरू कर दिया था। भारतीय जनता पार्टी की पार्षद और नेता प्रतिपक्ष मीनल चौबे ने कहा कि यूजर चार्ज की वजह से रायपुर शहर के तमाम दुकानदारों को काफी परेशानी झेलनी पड़ रही है। इसे कम किया जाना चाहिए।

Related Articles

Back to top button