सभी जिलों और शासकीय मेडिकल कॉलेजों में सिकलसेल जांच एवं परामर्श केंद्र 2 अक्टूबर तक खोलने के निर्देश

रायपुर
स्वास्थ्य मंत्री टी.एस. सिंहदेव ने प्रदेश के सभी जिलों और शासकीय मेडिकल कॉलेजों में 2 अक्टूबर तक सिकलसेल जांच एवं परामर्श केंद्र शुरू करने के निर्देश दिए हैं। पंडित जवाहर लाल नेहरू स्मृति चिकित्सा महाविद्यालय, रायपुर में छत्तीसगढ़ सिकलसेल संस्थान के संचालक मंडल की बैठक में उन्होंने ये निर्देश दिए। उन्होंने इन केंद्रों में काम करने वाले स्टॉफ को आवश्यक प्रशिक्षण प्रदान करने कहा। स्वास्थ्य मंत्री ने वॉक-इन-इंटरव्यु के माध्यम से इसके लिए डॉक्टरों की भर्ती करने के भी निर्देश दिए।

स्वास्थ्य मंत्री सिंहदेव ने राज्य सिकलसेल संस्थान के संचालक मंडल की 9वीं बैठक में पहुंचविहीन आदिवासी जिलों में सिकलसेल के मरीजों की प्राथमिकता से स्क्रीनिंग करते हुए पीड़ितों के परिवार के सभी लोगों की स्क्रीनिंग करने कहा। बैठक में सिकलसेल संस्थान में जनरल ड्यूटी मेडिकल आॅफिसर के तीन पदों, क्लर्क-कम-कम्प्यूटर आॅपरेटर के पांच पदों और रेसीडेंट डॉक्टर के पांच पदों पर भर्ती के लिए अनुमति प्रदान की गई। स्वास्थ्य मंत्री ने संचालक मंडल की बैठक हर छह माह में आयोजित करने के निर्देश दिए।

स्वास्थ्य विभाग के सचिव प्रसन्ना आर., आयुक्त डॉ. सी.आर. प्रसन्ना, पंडित दीनदयाल उपाध्याय आयुष विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. ए.के. चन्द्राकर, स्वास्थ्य सेवाओं के संचालक भीम सिंह, आयुष के संचालक पी. दयानंद, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के संचालक विलास संदीपन भोसकर, चिकित्सा शिक्षा विभाग के संचालक डॉ. विष्णु दत्त, सीजीएमएससी के प्रबंध संचालक अभिजीत सिंह, पंडित जवाहर लाल नेहरू स्मृति चिकित्सा महाविद्यालय, रायपुर की डीन डॉ. तृप्ति नागरिया, राज्य सिकलसेल संस्थान की महानिदेशक डॉ. उषा जोशी और संचालक मंडल के सदस्य डॉ. ए.टी.के. दाबके सहित अन्य सदस्य भी बैठक में मौजूद थे।

Related Articles

Back to top button