मुद्दाविहीन भाजपा अब जात पात धर्म के आधार पर बूथ में विभाजन की गन्दी राजनीति पर गई उतर – धनंजय

रायपुर
प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने भाजपा के अपना बूथ सबसे मजबूत कार्यक्रम के लिए कार्यकतार्ओं को दिए गए 25 बिन्दु के सर्वेक्षण पत्र पर सवाल खड़े किए प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सरकार के जनहितैषी किसान युवा श्रमिक शासकीय कर्मचारियों छत्तीसगढ़ के कला संस्कृति परंपरा तीज त्यौहार और सर्वहारा वर्ग के हित में किए गए अनेक कल्याणकारी कार्यों  के बाद छत्तीसगढ़ में भाजपा मुद्दाविहीन हो चुकी है। भाजपा बूथों में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सरकार की किसान कर्जा माफी योजना, बिजली बिल हाफ योजना, किसानों को धान की कीमत मिल रहे 2500 रू. प्रति क्विंटल, छत्तीसगढ़ की कला संस्कृति परंपरा तीज त्योहारो को पूर्वजिवित करने किये गये कार्यो, राजीव गांधी किसान न्याय योजना, गोधन न्याय योजना, राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर योजना, स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम योजना पर सवाल पूछने से बच रही है। क्योंकि भाजपा जब इन पर सवाल करेगी तब मुंह की खायेगी। इसलिये भाजपा अपने कार्यकतार्ओं के माध्यम से बूथ स्तर पर जात पात धर्म लेकर बूथ में विभाजन की गंदी राजनीति कर रही है। ये आरएसएस भाजपा की धर्म जाति के नाम से घृणा नफरत फैलाने की गंदी राजनीति का हिस्सा है।

भाजपा जिस राज्य में सत्ता में नही होती। वहाँ इस प्रकार के कटुता की राजनीति करती है। भाजपा का बूथ को लेकर बनाया गया सर्वेक्षण पत्र के बिन्दु 21 में आरएसएस भाजपा की देश को बांटने की साजिश का हिस्सा है। देश की गंगा जमुनी तहजीब पर प्रहार है। सामाजिक समरसता को खराब करने और वैमनस्यता फैलाने की ओछी राजनीति करने का प्रमाण है। भाजपा का अपना बूथ मजबूत कार्यक्रम के तहत जो कार्यकतार्ओं को फॉर्मेट देकर बूथ में कितने हिंदू हैं मुस्लिम है, बौद्ध के मानने वाले है, सिख धर्म को मानने वाले हैं, ईसाई धर्म को मानने वाले हैं या अन्य धर्म के मानने वाले मतदाता है। इसके अलग-अलग जानकारी मांगना भाजपा की तोड?े की राजनीति को दशार्ता है। भाजपा छत्तीसगढ़ की शांत धरा को अशांत करने की निरंतर षड्यंत्र कर रही है। वैमनस्यता फैलाने की साजिश कर रही है।

ठाकुर ने कहा कि भाजपा के नेता अब मोदी सरकार की नाकामी वादाखिलाफी बढ़ती महंगाई पेट्रोल डीजल, रसोई गैस के बढ़े दाम जूता, चप्पल, पेंसिल सी पुस्तक, दवाइयों के साथ खाद्य सामग्री के दामों हुई बढ़ोतरी देश की गिरती अर्थव्यवस्था डूबते बैंक एलआईसी सरकारी कंपनियों का निजीकरण बेरोजगारी के मामले में देश 45 साल पुराने इस स्थिति में खड़ी हुई है। किसानों के साथ हुई वादाखिलाफी इस पर चर्चा करने से भाग रही है। आरएसएस और उनके अनुवांशिक संगठन अब मोदी सरकार के नाकामियों पर पर्दा करने के लिए धर्म जात के नाम से लोगों को लड़ाने के लिए षड्यंत्र कर रहे हैं। प्रदेशवासियों को भाजपा के कार्यकतार्ओं के इस फॉर्मेट का विरोध करना चाहिए। छत्तीसगढ़ जहां मयार्दा पुरुषोत्तम राम जी ने शबरी के जूठे बेर खाकर भक्त और भगवान के बीच के प्रेम का संदेश दिए। जहां बाबा घासीदास जी ने मनके मनके एक समान का संदेश देकर सभी मनुष्यों को एक बताए हैं। ऐसे जगह में आरएसएस भाजपा अपनी गंदी राजनीति कर छत्तीसगढ़ीयो कि सरकार के खिलाफ षड्यंत्र रच रही है।

Related Articles

Back to top button