नक्सली संगठन अपने आधार क्षेत्र वाले एक मात्र बचे अबूझमाड़ क्षेत्र में हुए सक्रिय

नारायणपुर
बस्तर संभाग में पुलिस और फोर्स के कैंप के विस्तार से नक्सलियों पर जबरदस्त दबाव देखा जा रहा है, विगत वर्षों में कोई बड़ी वारदात को नक्सली अंजाम देने या उन्मूक्त गतिविधि संचालित करते नही दिख रहे हैं। इसका सबसे बड़ा कारण डीआरजी के जवान भी है, इसी तर्ज पर बस्तर फाइटर्स भर्ती का कार्य इन दिनों जारी है। जिससे बौखलाये नक्सली संगठन अपने आधार क्षेत्र वाले एक मात्र बचे अबूझमाड़ के इलाके में काफी सक्रिय हो गये हैं। यहां नक्सली लगातार छिटपुट वारदातों को अंजाम देने और नक्सली बैनर पोस्टर लगाकर अपनी उपस्थिति दर्ज करवाकर भय के साम्राज्य को बनाये रखने का प्रयास करने में लगे हुए हैं। इसी कड़ी में अबूझमाड़ के ओरछा मार्ग पर नक्सलियों के नेलनार एरिया कमेटी ने बैनर लगाकर बस्तर फाइटर्स भर्ती का विरोध करते हुए कई जगहों पर सड़क भी काट दी गई है।

नक्सलियों द्वारा सड़क के बीचों-बीच लगाए गए बैनर में बस्तर के युवाओं से बस्तर फाइटर्स भर्ती में शामिल नहीं होने की अपील की गई है। ओरछा ब्लॉक मुख्यालय के नजदीक नक्सलियों ने अपनी उपस्थिति दर्ज करते हुए मंडाली, बटूम •े पास पहाड़ी मंदिर के नीचे मुख्य मार्ग को जगह-जगह से काट दिया गया है। वहीं कई स्थानों पर पेड़ भी सड़क पर गिरा दिए हैं। बैनर में लिखा है कि बस्तर फाइटर्स भर्ती अभियान का सभी युवा विरोध करें। इस मैसेज को हर घर तक पहुंचाना है, बस्तर फाइटर्स हमें मंजूर नहीं है। बस्तर की जमीन हमारी है, इसे बचाना हैं। ओरछा-नारायणपुर रोड में जगह-जगह सड़क काट देने से मार्ग पूरी तरह से बंद है। बीते दिनों भी नक्सलियों ने इस रोड को अवरुद्ध किया था।

Related Articles

Back to top button