मनरेगा मेटों व श्रमिकों को भाया जनमन, कहा- इसमें प्रदेश सरकार के कामकाज का सार-संग्रह है

धमतरी
अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर केन्द्रीय ग्रामीण विकास मंत्रालय नई दिल्ली द्वारा 07 से 13 मार्च तक महात्मा गांधी नरेगा के तहत महिला प्रतिनिधित्व आधारित विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। इसी क्रम में प्रदेश सहित मनरेगा अंतर्गत जिले की 5-5 उत्कृष्ट महिला मेटों व महिला श्रमिकों को पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग छत्तीसगढ़ शासन द्वारा वर्चुअल रूप से प्रशस्ति-पत्र भेंट कर सम्मानित किया गया। इन कार्यक्रमों में शामिल होने 09 मार्च को उत्कृष्ट महिला मेटों तथा आज महिला श्रमिकों को वी.सी. कक्ष में आहूत किया गया था। कार्यक्रम के उपरांत कलेक्टर पी.एस. एल्मा के निदेर्शानुसार सभी महिलाओं को जनसम्पर्क विभाग की ओर से जनमन सहित शासन की महत्वाकांक्षी योजनाओं पर आधारित विभिन्न पत्रिका, पुस्तिका एवं ब्रोशर नि:शुल्क वितरित किए गए।

9 मार्च को जिला पंचायत की सी.ई.ओ. श्रीमती प्रियंका महोबिया के द्वारा महिला मेट लोहरसी पंचायत की श्रीमती रेखा गजेंद्र, कुरूद के सिरसिदा की श्रीमती पुष्पाबाई पटेल, मगरलोड के खड़मा की श्रीमती प्रेमीन बाई कमार, नगरी के सिहावा की श्रीमती संध्या मानिकपुरी और सियादेही की श्रीमती वाणी पटेल को जनमन सहित विभिन्न पत्र-पत्रिकाएं बांटी गई। इसी तरह वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के उपरांत आज जिला पंचायत की अध्यक्ष श्रीमती कांति सोनवानी के द्वारा पांच मनरेगा महिला लाभार्थी श्रमिक धमतरी विकासखण्ड की ग्राम पंचायत संबलपुर की श्रीमती रामबाई, कुरूद के ग्राम चर्रा की महिला मजदूर श्रीमती मालती बाई पटेल, मगरलोड के ग्राम खड़मा की श्रीमती रजवंतिन ध्रुव, नगरी के ग्राम कौहाबाहरा की मजदूर श्रीमती लता बाई और ग्राम मौहाबाहरा की श्रीमती फगनी बाई मरकाम को पत्रिकाएं एवं पुस्तिकाएं वितरित की गई। इन महिलाओं ने सरसरी तौर पर जनमन सहित पुस्तिकाओं को पढ़कर कहा कि इनमें सरकार के कामकाज को बेहतर ढंग से दशार्ते हुए सार-संग्रह किया गया है, जिससे काफी जानकारी मिली। उन्होंने बताया कि पुस्तिकाओं को घर ले जाकर स्कूल में पढ़ रहीं उनके बेटे-बेटियों को भी पढ़ाकर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और उनके द्वारा चलाई जा रही योजनाओं के बारे में बताएंगी। महिलाओं ने यह भी कहा कि प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे युवाओं के सामान्य ज्ञान के लिए भी ये पुस्तिकाएं ज्ञानवर्धक सिद्ध होंगी।

Related Articles

Back to top button