सकारात्मक सोच से आएगा व्यक्तित्व में निखार – पंचभाई

रायपुर
प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय के शिक्षाविद सेवा प्रभाग द्वारा बच्चों के सर्वांगीण विकास के लिए विश्व शान्ति भवन चौबे कालोन रायपुर में समर कैम्प आयोजित किया गया है। जिसका शुभारम्भ आज अपर कलेक्टर बीरेन्द्र बहादुर पंचभाई, संयुक्त कलेक्टर उज्जवल पोरवार और क्षेत्रीय निदेशिका ब्रह्माकुमारी कमला दीदी ने दीप प्रज्वलित करके किया।

इस अवसर पर बोलते हुए अपर कलेक्टर बीरेन्द्र बहादुर पंचभाई ने कहा कि व्यक्तित्व में निखार लाने के लिए सकारात्मक सोच और आत्म विश्वास जरूरी है। सकारात्मक सोच के साथ आगे बढ़ें। हमेशा सीखने के लिए तैयार रहे। ईश्वर ने हमें दो कान और एक मुंह दिए हैं ताकि हम सुनें ज्यादा और बोलें कम। पंचभाई ने बच्चों को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि चरित्र निर्माण की शिक्षा प्राप्त करने के लिए ब्रह्माकुमारी संस्थान का समर कैम्प सबसे अच्छी जगह है। आप लोग जब बड़े होकर किसी जिम्मेदार पद पर कार्य करेंगे तब आप लोगों को यहाँ से प्राप्त शिक्षाएं बहुत काम आएंगी।

समारोह में उपस्थित संयुक्त कलेक्टर उज्जवल पोरवार ने कहा कि जीवन में नैतिकता का गुण सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण होता है। यह व्यक्तित्व विकास के लिए भी जरूरी है। उन्होंने आगे कहा कि सफलता प्राप्त करने के लिए अपने लक्ष्य पर फोकस करें, रोज उसके लिए समय निकालें तो दिन-प्रतिदिन आपको सुधार दिखाई देगा और कुछ समय बाद आप उस क्षेत्र में मास्टर बन जाएंगे। हमें हर परिस्थिति का मुकाबला करना चाहिए। सीखिए और अपने में सुधार करिए। इससे जीवन में आगे बढऩे में मदद मिलेगी।

प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय की क्षेत्रीय निदेशिका ब्रह्माकुमारी कमला दीदी ने बच्चों को अपने आशीर्वचन में कहा कि हरेक माता-पिता की यह शुभ इच्छा होती है कि उनका बच्चा बड़ा होकर किसी उँचे पद पर आसीन हो और उनका नाम रौशन करे। इसलिए वह लोग बच्चों को अच्छी शिक्षा दिलाने के लिए पूरा प्रयास भी करते हैं। किन्तु बच्चों के चारित्रिक एवं नैतिक उन्नति के लिए वह लोग पर्याप्त ध्यान नहीं देते। जिसके परिणामस्वरूप आध्यात्मिक शिक्षा से वंचित होने के कारण बच्चों का नैतिक उत्थान नहीं हो पाता है और उनका व्यक्तित्व अधूरा रह जाता है।

उन्होंने कहा कि जिस प्रकार छोटे पौधों का रोपण करना सहज होता है। उसी प्रकार बच्चों में अच्छे संस्कारों को रोपित करना आसान होता है। इसलिए आज ऐसे प्रयासों की जरूरत है कि जिसमें मुनष्य गुणवान बनने के लिए प्रेरित हो। इस अवसर पर बोलते हुए ब्रह्माकुमारी चित्रलेखा दीदी ने बतलाया कि यह समर कैम्प चौबे कालोनी रायपुर में विगत पन्द्रह वर्षों से निरन्तर आयोजित किया जा रहा है। इसका मुख्य उद्देश्य बच्चों में नैतिक एवं आध्यात्मिक गुणों का समावेश कर उनके व्यक्तित्व का विकास करना है। कार्यक्रम का संचालन ब्रह्माकुमारी सौम्या दीदी ने किया। 

Related Articles

Back to top button