बस्तर विश्वविद्यालय में 7 वर्षों से अटकी पीएचडी की प्रक्रिया पुन: शुरू हुई

जगदलपुर

बस्तर विश्वविद्यालय दो लोगों को पीएचडी अवॉर्ड प्रदान करने के बाद विगत 7 वर्षों से अटकी पीएचडी की प्रक्रिया दोबारा से शुरू हो गई है। बस्तर विश्वविद्यालय प्रबंधन अब नई 70 सीटों पर छात्रों को पीएचडी करवाने के लिए एंट्रेंस एग्जाम करवाने जा रहा है। इसके लिए नवंबर महीने में नोटिफिकेशन भी जारी कर दी जाएगी। कैटेगरी वाइस नोटिफिकेशन तैयार करवाया जा रहा है।

बस्तर विश्वविद्यालय के प्रवक्ता प्रो सीएल टंडन ने बताया कि पहले से पेंडिंग पड़ी प्रक्रिया को नये कुलपति प्रो. मनोज श्रीवास्तव ने शुरू करवा दिया है। पहले चरण में बीयू से पीएचडी के लिए 48 छात्रों का नामिनेशन हुआ था। इनमें से दो को पीएचडी प्रदान की गई है, बाकी बचे 46 छात्र की प्रक्रिया भी पूरी की जा रही है। इनमें से जो लोग क्वालिफाइड होंगे उन्हें पीएचडी अवार्ड कर दी जायेगी। इसके अलावा 70 नये छात्रों के लिए जल्द ही नोटिफिकेशन जारी किया जायेगा।

Related Articles

Back to top button