नशे में धुत स्कूल पहुंची टीचर, बुलाई पुलिस, किया सस्पेंड

जशपुर
शराब में धुत होकर कई शिक्षकों के द्वारा स्कूल में हंगामा करने की खबरें आती रहती हैं लेकिन क्या आपने महिला शिक्षिका को नशे में धुत होकर स्कूल में सोते देखा है. ऐसा ही मामला जशपुर के एक सरकारी स्कूल से सामने आया है. मामला सरकारी प्राइमरी स्कूल टिकैतगंज का है, जहां गुरुवार को सुबह 11 बजे बीईओ एमजेडयू सिद्दीकी निरीक्षण करने पहुंचे थे. उन्होंने पाया कि क्लास रूम में बच्चे बैठे हैं और सहायक शिक्षिका जगपति भगत अपनी कुर्सी पर बेसुध पड़ी हुई हैं. शिक्षिका को नशे में देख बीईओ ने एडिशनल एसपी को फोन किया और महिला पुलिस को बुलवाया. स्कूल में किसी महिला टीचर द्वारा शराब पीने का छ्त्तीसगढ़ का यह संभवत: पहला मामला है.

स्कूल में कुल 54 बच्चे पढ़ते हैं. महिला टीचर जगपति भगत सभी विषय पढ़ाती हैं. जिला शिक्षा अधिकारी ने महिला टीचर को सस्पेंड कर दिया है. बीईओ एमजेडयू सिद्दीकी ने बताया, “मैं रूटीन निरीक्षण के लिए स्कूल में गया था. मैंने देखा कि शिक्षिका बेसुध होकर कुर्सी पर पड़ी हुई हैं. शुरुआत में मुझे लगा कि उनकी तबीयत खराब है. मैंने बच्चों से उनके स्वास्थ्य की जानकारी ली. मैं बच्चों के जवाब से हैरान रह गया. उन्होंने कहा कि शिक्षिका शराब पीने के कारण बेसुध हैं.”

बीईओ ने जशपुर एडिशनल एसपी प्रतिभा पांडेय को फोन लगाया और पूरे मामले की जानकारी दी और उनसे महिला पुलिसकर्मी को भेजने का अनुरोध किया ताकि शिक्षिका का मेडिकल चेकअप कराया जा सके. उन्होंने तत्काल दो महिला पुलिसकर्मियों को स्कूल भेजा. पुलिस वैन में महिला टीचर को जिला अस्पताल लेकर जाया गया. डॉक्टरों ने महिला टीचर द्वारा शराब का सेवन किए जाने की पुष्टि की.

बीईओ एमजेडयू सिद्दीकी ने बताया कि कुछ दिनों पहले अभिभावकों ने महिला टीचर भगत द्वारा शराब का सेवन करके स्कूल आने की शिकायत की थी. स्कूल कमेटी ने भी महिला टीचर से शराब का सेवन बंद करने की चेतावनी दी थी लेकिन कोई सकारात्मक नतीजा नहीं निकल सका. स्कूल हेडमास्टर आरती भगत ने भी कई बार उन्हें चेतावनी दी थी. जिला शिक्षा विभाग के मुताबिक जशपुर जिले में वर्तमान सत्र में अब तक 5 शिक्षकों को शराब पीकर स्कूल आने की शिकायत पर निलंबित किया जा चुका है.

Related Articles

Back to top button