महिलाएँ सदा से पूजनीय: डॉ. पी.एस. मिश्रा

बिलासपुर
अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर  एसईसीएल मुख्यालय वसंत विहार स्थित रविन्द्र भवन में श्रद्धा महिला मण्डल एवं विप्स द्वारा अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस का आयोजन किया गया। कार्यक्रम के मुख्य आतिथि अध्यक्ष सह प्रबंध निदेशक डॉ. पी.एस. मिश्रा ने इस अवसर पर उपस्थित महिलाओं अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि महिलाएं सदा से पूजनीय रही हैं। उन्होने कहा कि महिलाएँ प्रारंभ से ही किसी भी चीज को सहेजने, समेटने सृजन करने का कार्य करती हैं जिसका कोई विकल्प नहीं है। महिलाएँ अपनी पारिवारिक जिम्मेदारियों के साथ समाज के हर क्षेत्र में अपनी सफलता का परचम लहरा रही हैं जिन्हें पूर्ण आदर मिलना चाहिए। उन्होंने कामना करते हुए कहा कि नारी शक्ति को इतना बल मिले कि भविष्य की चुनौतियों का सामना कर अपने लक्ष्य को हासिल कर सके।

कार्यक्रम की विशिष्ट अतिथि श्रद्धा महिला मण्डल अध्यक्षा श्रीमती पूनम मिश्रा ने उपस्थित महिलाओं को अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस की बधाई देते हुए कहा कि महिलाएँ बहुत सक्षम हैं। कोई भी फिल्ड महिलाओं के लिए कठिन नहीं है, जब भी आप लडखड़ाते या असफल होते हैं तो अपने आप से पूछिए क्यों असफल हुए हैं। अपने लिए सबसे अच्छा दोस्त हम खुद हैं, हमें पता है कि हममे क्या कमजोरी है उसे सुधार कर आगे बढ़ते हुए अपने आपको सम्हाले, अपने लक्ष्य को हासिल करें।

इस अवसर पर मुख्य सतर्कता अधिकारी बी.पी. शर्मा, निदेशक (वित्त) एस.एम. चौधरी, श्रद्धा महिला मण्डल की उपाध्यक्षा श्रीमती संगीता शर्मा, श्रीमती पिंकी प्रसाद, श्रीमती कल्पना चौधरी, श्रीमती रीता पाल, श्रीमती कीर्ति तिवारी सदस्य सेन्ट्रल गर्वनिंग बाडी विप्स, श्रीमती प्रीति निमजे विप्स कोआर्डिनेटर, महाप्रबंधक (कार्मिक/प्रशासन) ए.के. सक्सेना की उपस्थिति में किया गया जिसमें एसईसीएल मुख्यालय सहित एसईसीएल के समस्त कोयला क्षेत्रों की विप्स की सदस्याओं व बिलासपुर अंचल की कर्मण्य महिलाओं ने हिस्सा लिया।

कार्यक्रम के प्रारंभ में कोलइण्डिया कॉरपोरेट गीत बजाया गया उपरांत मंचस्थ अतिथियों द्वारा दीप प्रज्जवलन किया गया। इस अवसर पर श्रीमती प्रीति निमजे ने विप्स शपथ का पठन किया जिसे उपस्थित समस्त विप्स सदस्याओं ने दोहराया। कार्यक्रम में स्वागत उद्बोधन श्रीमती कीर्ति तिवारी ने प्रस्तुत किया। एसईसीएल नारी रत्न सम्मान की प्रस्तावना डॉ. सनीशचन्द्र जनसंपर्क अधिकारी ने प्रस्तुत किया। कार्यक्रम में उद्घोषणा का दायित्व प्रीति निमजे एवं चम्पा भट्टाचार्य द्वारा निभाया गया जबकि अंत में धन्यवाद ज्ञापित शैलजा दाभाड़े द्वारा दिया गया।

महिलाएं हुई सम्मानित
इस अवसर पर अध्यक्ष सह प्रबंध निदेशक डॉ. पी.एस. मिश्रा , मुख्य सतर्कता अधिकारी बी.पी. शर्मा, निदेशक (वित्त) एस.एम. चौधरी, श्रद्धा महिला मण्डल अध्यक्षा श्रीमती पूनम मिश्रा, उपाध्यक्षा श्रीमती संगीता शर्मा, श्रीमती पिंकी प्रसाद, श्रीमती कल्पना चौधरी, श्रीमती रीता पाल के करकमलों से बिलासपुर अंचल के 15 कर्मण्य महिलाओं श्रीमती मीतू गुप्ता वन्य जीव संरक्षण, श्रीमती मंजू बलहार राजयोग मेडिटेशन एवं मोटिवेशनल स्पीकर, जमुना बाई सागर समाज सेविका, श्रीमती अल्का फाक रेलवे चाइल्ड लाईन, रेखा गुल्ला खेल व समाज कल्याण, श्रीमती शिल्पी केडिया महिला कल्याण, डॉ. श्रुति गुप्ता शिक्षाविद, श्रीमती स्वाती आनंद, श्रीमती स्नेहा सिंग शिक्षिका, डॉ. उषा किरण बाजपेयी समाज कल्याण, विद्या गोवर्धन सामाजिक कार्य, श्रीमती विभा सोनी शिक्षिका, श्रीमती वासंती वैष्णव कत्थक नृत्य, व एसईसीएल परिवार की 17 महिलाओं श्रीमती नथिया बाई फिटर हेल्पर मेके. धनपुरी ओसीएम सोहागपुर क्षेत्र, श्रीमती माया बाई कारट्रीक मेकर कंचन खुली खदान जोहिला, श्रीमती मधु प्यून दीपका क्षेत्र, श्रीमती शर्ली थॉमस मेट्रन कुसमुण्डा क्षेत्र, श्रीमती सरस्वती केटेगरी-।। चरचा वेस्ट बैकुण्ठपुर क्षेत्र, श्रीमती बुधनी बाई मषीनिष्ट केटेगरी-4 रिजनल वर्कशाप कोरिया चिरमिरी, कुमारी जानकी सिंह डाटा एन्ट्री आॅपरेटर जमुना कोतमा, श्रीमती ललिता कंवर केटे-1 सीईडब्ल्यूएस गेवरा, श्रीमती मुन्नी बाई वेल्डर हेल्पर केटे-।। क्षेत्रीय कर्मशाला बिजुरी हसदेव, श्रीमती मुल्की बाई मशीन हेल्पर भटगांव, श्रीमती त्रिवेणी बाई ईपी टर्नर सीडब्ल्यूएस कोरबा, श्रीमती अमिया केरकेट्टा मेट्रन छाल डिस्पेंसरी रायगढ़, श्रीमती करा बाई कन्वेयर आॅपरेटर केटेगरी-।।।, श्रीमती राम बाई आर्मेचर वाईन्डर केटेग-4 रिजनल वर्कशॉप बिश्रामपुर क्षेत्र,श्रीमती प्रियंका सिंह लिपिक ग्रेड ।। गेवरा, दीपका शुक्ला डाटा एन्ट्री आॅपरेटर उत्खनन विभाग मुख्यालय बिलासपुर, श्रीमती रश्मि खरे प्रबंधक (कार्मिक) दानकुनी कोल कॉम्प्लेक्स को उनके उत्कृष्ठ कार्यों के लिए एसईसीएल नारी रत्न पुरस्कार 2022 से पुरस्कृत किया गया।

Related Articles

Back to top button