सांस्कृतिक कार्यक्रम ‘फोक सफर’ का रंगारंग आयोजन

जयपुर। डेनिश संगीतकारों और मांगणियार लोक कलाकरों के बीच संगीत की जुगलबंदी ने बुधवार सायं स्थानीय जवाहर कला केन्द्र में दर्शकों का मन मोह लिया। मौका था पर्यटन विभाग और यूनेस्को के सहयोग से आयोजित सांस्कृतिक कार्यक्रम 'फोक सफर' के आयो​जन का।  

'फोक सफर' में डेनमार्क के कलाकारों का संगीत, उनके देश तथा पड़ोसी क्षेत्रों की लोक परम्पराओं की विरासत के शानदार प्रदर्शन के साथ मांगणियार कलाकारों द्वारा प्रदेश के मरू आँचल के पारम्परिक संगीत एवं ताल का रंगारंग प्रदर्शन किया गया। लंगा संगीतकारों के प्रदर्शन के बाद कालबेलिया नृत्य के अद्भुत प्रदर्शन को दर्शको ने काफी सराहा। मांगणियार गायकों की गायकी और डेनिश संगीतकारों के तरानों ने दर्शकों का दिल ​जीत लिया। एक से बढ़कर एक अद्भुत अविस्मरणीय प्रस्तुतियों ने दोनो देशों की साझा संस्कृति की जीवंत प्रस्तुति पेश की। सुर, लय और ताल की जुगलबंदी ने दर्शकों का दिल जीत लिया।

शाम के अन्य आकर्षण में मास्टर सिंधी सारंगी वादक असिन खान लंगा और बड़नवा जागीर, बाड़मेर के युवा प्रतिभाशाली गायक सत्तार खान लंगा के नेतृत्व में लंगा संगीत का आयोजन भी शामिल था। इसके बाद चौपासनी, जोधपुर के कालू नाथ कालबेलिया के नेतृत्व में कालबेलिया नृत्य ने समा बांध दिया।

कार्यक्रम में डेनिश कलाकारों का नेतृत्व मारेन हॉलबर्ग और जोर्गन डिकमेस ने किया और मांगणियार कलाकारों का नेतृत्व शिव, बाड़मेर से आये मंजूर खान मांगणियार ने किया।

फोक सफर में जोधपुर के सालावास की दरियां, बाड़मेर के पटोदी की जूतियां, चोहटन की ऍप्लिक और जैसलमेर के पोकरण के बर्तनों सहित अन्य हस्तशिल्प वस्तुओं का प्रदर्शन किया गया।

कार्यक्रम में पर्यटन  विभाग के निदेशक श्री निशांत जैन, अतिरिक्त निदेशक श्री आनन्द कुमार त्रिपाठी सहित अन्य अधिकारियों सहित बड़ी संख्या में दर्शक भी उपस्थित थे।

Related Articles

Back to top button