ताजमहल पर विवाद: अब ‘मुगल वंशज’ शिकायत लेकर पहुंचा थाने, पीएम-सीएम को भी लेटर

 आगरा
 
ताजमहल को लेकर रोज नए विवाद सामने आ रहे हैं। अब तो लोग सस्ती लोकप्रियता हासिल करने के लिए भी विश्व प्रसिद्ध स्मारक को बदनाम करने से नहीं चूक रहे हैं। खुद को मुगल वंशज कहने वाले प्रिंस याकूब आरिफुद्दीन ने परमहंस आचार्य, मत्स्येंद्र गोस्वामी और राजश्री चौधरी पर सौहार्द बिगाड़ने की कोशिश का आरोप लगाते हुए थाना ताजगंज में मुकदमा दर्ज कराने के लिए तहरीर दी है। इसके अलावा उन्होंने प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री से भी शिकायत की है।

पिछले दो महीनों से ताजमहल विवादों को लेकर काफी सुर्खियों में है। अयोध्या के परमहंस आचार्य ने इलाहाबाद हाईकोर्ट में याचिका दायर की। उरई के संत मत्स्येंद्र गोस्वामी ने ताजमहल स्थित फोटो गैलरी में लगे देवी-देवताओं के चित्रों को लेकर विवाद खड़ा किया। अयोध्या के भाजपा नेता रजनीश ने 22 बंद कमरों को खोलने की लखनऊ खंडपीठ में याचिका दायर की थी।

अखिल भारत हिंदू महासभा की राष्ट्रीय अध्यक्ष राजश्री चौधरी ने ताजमहल को तेजोमहालय बताते हुए पूजा-अर्चना की अनुमति मांगी। वहीं राजस्थान की राजकुमारी दीया कुमारी ने ताजमहल अपने पूर्वजों की जमीन पर बना होने का दावा किया। अब मुगल वंशज प्रिंस तूसी ने बुधवार को इन सभी के खिलाफ सांप्रदायिक सौहार्द्र बिगाड़ने का आरोप लगाते हुए मुकदमा दर्ज करने को तहरीर दी है।

 

Related Articles

Back to top button