डा.कफील देवरिया में बीजेपी से पराजय के बाद बोल- MLC चुनाव में भी हार गया लोकतंत्र

देवरिया
उत्तर प्रदेश में देवरिया-कुशीनगर एमएलसी सीट से समाजवादी पार्टी(सपा) के उम्मीदवार डा.कफिल खान ने अपनी हार को स्वीकार करते हुए कहा कि आज आये चुनाव परिणाम से साबित हो गया है कि प्रदेश में एक बार फिर लोकतंत्र की करारी हार हुयी है। डा.खान ने मंगलवार को यहां मतगणना स्थल पर संवाददाताओं से कहा कि उन्हे इस चुनाव में 1031 मत मिले हैं।यह हार उनकी नहीं बल्कि यहां लोकतंत्र की हार हुई है। इस चुनाव में पैसे का प्रलोभन, पुलिस प्रशासन का दबाव और प्रधान तथा बीडीसी सदस्यों को डराया धमकाया गया है जिस नतीजा है कि लोकतंत्र एक बार फिर हार गया।

भाजपा के विजयी प्रत्याशी डा.रतन पाल सिंह को जीत की बधाई देते हुए कहा कि अब वे 14 विधानसभा के लोगों और जन प्रतिनिधियों के एमएलसी हैं। आशा है कि नव निर्वाचित एमएलसी डा.सिंह क्षेत्र का विकास करने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ेंगे। डा.कफिल ने आरोप लगाते हुए कहा कि चुनाव के दौरान उनकों पुलिस के द्वारा परेशान करने का प्रयास किया गया।उन्होंने कहा कि पुलिस ने उनको परेशान करने तथा दबाव में लेने के लिये उनके गोरखपुर के आवास पर जाकर परेशान करने का प्रयास किया। उन्होने कहा कि चुनाव में पराजित होने के बाद भी जनता की सेवा के लिये लगे रहेंगे।उन्होंने दावा करते हुए कि वह जल्द ही इस क्षेत्र के तीसों विकास खंड क्षेत्रों में जनता की सेवा के लिये फ्री मेडिकल कैम्प लगाकर उनकों स्वास्थ्य सेवाओं का लाभ देने का काम करेंगे।कफिल ने कहा कि उनकी इच्छा दी थी कि इस क्षेत्र में एक अस्पताल खोला जाय।उन्होंने कहा कि अगर प्रदेश के मुख्य योगी आदित्यनाथ जी महराज इस क्षेत्र में अस्पताल खोलने का इजाजत देते हैं,तो वह इस क्षेत्र में एक अस्पताल खोलने का काम करेंगे।

 

Related Articles

Back to top button