मुख्यमंत्री बजट घोषणाओं की शत-प्रतिशत क्रियान्विति सुनिश्चित करें: जनजाति क्षेत्रीय विकास राज्य मंत्री

 

जयपुर। जनजाति क्षेत्रीय विकास राज्य मंत्री व जालोर जिले के प्रभारी मंत्री श्री अर्जुन सिंह बामनिया ने कहा कि मुख्यमंत्री बजट घोषणाओं की तय समय सीमा में शत-प्रतिशत क्रियान्विति सुनिश्चित की जावें ताकि आमजन को इसका लाभ मिल सकें।

प्रभारी मंत्री शुक्रवार को जालोर कलेक्ट्रेट सभागार में मुख्यमंत्री बजट घोषणा तथा बीस सूत्री कार्यक्रम के संबंध में जिला स्तरीय अधिकारियों की समीक्षा बैठक को संबोधित कर रहे थे। प्रभारी मंत्री ने गत वर्ष की मुख्यमंत्री बजट घोषणाओं की प्रगति तथा वर्तमान बजट घोषणाओं की कार्ययोजना के संबंध में जानकारी लेते हुए अधिकारियों को निर्देशित किया कि अधिकारी आपसी समन्वय के साथ कार्ययोजना बनाकर पूर्ण मनोयोग एवं निष्ठा के साथ बजट घोषणाओं को मूत्र्त रूप दिया जाना सुनिश्चित करें।

बैठक के प्रारंभ में प्रभारी राज्य मंत्री श्री अर्जुन सिंह बामनिया, जन अभाव अभियोग निराकरण समिति के अध्यक्ष श्री पुखराज पाराशर, आहोर विधायक श्री छगनसिंह राजपुरोहित व जिला कलक्टर नम्रता वृष्णि ने 350 लाख की लागत से निर्मित होने वाली बागरा-नारणावास-धवला-लेटा सड़क का वर्चुअल शिलान्यास किया।
बैठक में प्रभारी मंत्री ने मुख्यमंत्री बजट घोषणाओं के अंतर्गत जिले के प्रत्येक ब्लॉक में नंदीशाला की स्थापना, थानों में स्वागत कक्षों के निर्माण की स्थिति, सायला अनार मण्डी के लिए भूमि चिन्हिकरण, रेवतड़ा महाविद्यालय के लिए भूमि चिन्हीकरण, सिलासन (रानीवाड़ा) में 33 केवी जीएसएस की स्थापना, इको टूरिज्म को बढ़ावा देने के लिए सुन्धा माता क्षेत्र में लवकुश वाटिका, खेडाधनारी (आहोर) व पांथेडी (सायला) में औद्योगिक क्षेत्र, बिशनगढ़ में नवीन पुलिस थाना, जालोर में एफएसटीपी ट्रीटमेंट प्लांट, बालवाड़ा (सायला), देताबुर्द (जालोर) व सिलासन (रानीवाड़ा) में उप स्वास्थ्य केन्द्र, जिला मुख्यालय पर नर्सिंग महाविद्यालय, चितलवाना में सावित्री बाई फूले कन्या छात्रावास के लिए जमीन आवंटन, टीएडी विभाग के छात्रावासों के संचालन इत्यादि बजट घोषणाओं की प्रगति के संबंध में जानकारी लेते हुए आवश्यक निर्देश दिये।

उन्हाेंंने जिले की क्षतिग्रस्त सड़कों एवं निर्माणाधीन रास्तों का गुणवत्तापूर्ण निर्माण करने की बात कही। उन्होंने विकास पथ व नगरीय निकाय क्षेत्रों के रिपेयर वर्क व टीएडी छात्रावास आहोर के निर्माण को तय समय पर पूर्ण करने के निर्देश दिये।
उन्होंने जालोर जिले में मुख्यमंत्री किसान मित्र योजना, कृषि कनेक्शन, उद्यमितयों को विद्युत कनेक्शन, एससी-एसटी कैटेगरी वाइज कनेक्शनों की प्रगति की जानकारी लेते हुए लंबित विद्युत कनेक्शनों के शीघ्र निस्तारण के साथ ही विद्युत लाईनों के रख-रखाव के निर्देश दिये। प्रभारी मंत्री ने सामुजा ग्राम में ट्रांसफॉर्मर को लेकर प्राप्त हुई शिकायत के संबंध में त्वरित कार्यवाही कर निस्तारण करने तथा जिले के पिछड़े क्षेत्रों में वरियता के साथ कृषि कनेक्शन देने की कार्यवाही करने की बात कही।

उन्हाेंने जिले में पेयजल आपूर्ति व आर.ओ. संयंत्रों की प्रगति व रख-रखाव, सोलर आधारित डी-फ्लोराइेशन प्लांट, सोलर पंप, ब्लॉकवार कन्टीजेन्सी प्लान व आपात स्थितियों से निपटने के लिए स्टेण्ड बाइ पम्प की तैयारियों के बारे में जानकारी लेते हुए ग्रीष्म ऋतु को देखते हुए गंभीर पेयजल समस्या से जूझ रहे क्षेत्रों में परिवहन द्वारा पानी की आपूर्ति करने तथा पशुओं के लिए पेयजल व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिये।

प्रभारी मंत्री ने मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना, मुख्यमंत्री निःशुल्क योजना, निरोगी राजस्थान की प्रगति के बारे में जानकारी लेते हुए कहा कि चिरंजीवी योजना में सम्मिलित अस्पतालों में सुविधाजनक इलाज सुनिश्चित करने के लिए नियमित मॉनिटरिंग की जाए।
 
प्रभारी मंत्री ने महात्मा गांधी नरेगा में हो रहे कार्यों की भौतिक प्रगति की समीक्षा करते हुए नियमित मॉनिटरिंग करने की बात कही। उन्होंने जिले में संचालित महात्मा गांधी अंग्रेजी माध्यम स्कूलों के बारे में जानकारी भी प्राप्त की।
बैठक में श्रम राज्य मंत्री सुखराम विश्नोई ने कृषि विभाग के अधिकारियों को किसान हित की महत्वपूर्ण योजनाओं के बारे में ब्लॉक स्तरीय जागरूकता कार्यशालाओं  का आयोजन कर अधिकाधिक किसानों को लाभांवित किये जाने के निर्देश दिये। पशुपालन विभाग द्वारा संक्रामक बचाव के लिए किये जा रहे प्रयासों एवं पशुपालकों के लिए उपलब्ध निःशुल्क दवा वितरण पर जानकारी लेते हुए उन्होंने आवश्यक निर्देश दिये।
बैठक में जन अभाव अभियोग निराकरण समिति के अध्यक्ष श्री पुखराज पाराशर ने संपर्क पोर्टल पर प्राप्त परिवेदनाओं के नियमित निस्तारण कर आमजन को लाभांवित करने की बात कही। उन्होंने कहा कि सीएम पोर्टल से प्राप्त हो रही परिवेदनाओं एवं 1 माह व इससे अधिक लंबित परिवेदनाओं का प्राथमिकता से निस्तारण करवाया जावें।
इस अवसर पर जिला कलक्टर नम्रता वृष्णि के निर्देशन में विभागीय अधिकारियों के द्वारा पॉवर पोइन्ट के प्रजेन्टेशन के माध्यम से विभागीय जानकारियाँ प्रदान की गई।

बैठक के दौरान आहोर विधायक श्री छगनसिंह राजपुरोहित, जिला पुलिस अधीक्षक श्री हर्षवर्धन अग्रवाल, अभियंता हुकमचंद बैरवा सहित विभिन्न जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।

जन सुनवाई कर आमजन की समस्याओं के त्वरित निस्तारण के दिए निर्देश-
जालौर जिले के प्रभारी राज्य मंत्री श्री अर्जुन सिंह बामनिया एवं जन अभाव अभियोग निराकरण समिति के अध्यक्ष श्री पुखराज पारशर ने शुक्रवार को प्रातः सर्किट हाऊस में जन सुनवाई के माध्यम से आमजन की समस्याओं को सुनकर उचित समाधान के अधिकारियों को निर्देश दिए।

जनसुनवाई के दौरान उन्होंने आमजन से रूबरू होकर उनकी समस्याओं को सुना तथा उपस्थित अधिकारियों को समस्याओं के त्वरित निस्तारण के निर्दे

Related Articles

Back to top button