शहर-शहर अग्निपथ स्कीम पर संग्राम, ट्रेनों में आग, योगी बोले- बहकावे में न आएं

नई दिल्ली
सेना में भर्ती के लिए सरकार की ओर से घोषित की गई अग्निपथ स्कीम का तीव्र विरोध देश के राज्यों में शुरू हो गया है। मंगलवार को इस स्कीम का ऐलान किया गया था और बुधवार सुबह ही बिहार के कई जिलों में छात्रों ने इसके खिलाफ मोर्चा खोल दिया था। यही नहीं गुरुवार को एक बार फिर से मुंगेर, कैमूर, सहरसा, छपरा समेत कई जिलों में छात्र विरोध के लिए उतरे हैं। कैमूर में छात्रों ने इंटरसिटी एक्सप्रेस को आग के हवाले कर दिया तो कई जगहों पर सड़क जाम कर टायरों में आग लगाकर प्रदर्शन कर रहे हैं। इसके अलावा दिल्ली-जयपुर हाईवे को भी छात्रों ने राजस्थान में जाम कर दिया है। यूपी के बरेली में सेना की तैयारी कर रहे युवाओं ने विरोध प्रदर्शन शुरू किया है। बिहार से शुरू इस आंदोलन की आग देश के अलग-अलग राज्यों में फैल रही है।

बिहार में 22 ट्रेन रद्द, पांच का समय बदला
केंद्र सरकार की ओर से घोषित की गई अग्निपथ योजना स्कीम के खिलाफ देशभर में विरोध प्रदर्शन हो रहा है। बिहार की बात करें तो यहां 22 ट्रेनें रद्द हो चुकी हैं वहीं, 29 ट्रेनों पर इसका सीधा असर हुआ है। जबकि पांच ट्रेनों का समय बदला गया है।

राजस्थान के कई हिस्सों में विरोध प्रदर्शन, अभी कोई अप्रिय घटना नहीं
अल्पकालिक अवधि के लिए संविदा नियुक्ति के आधार पर सेनाओं में युवाओं की भर्ती की केंद्र सरकार की नई ‘अग्निपथ’ योजना के खिलाफ राजस्थान के अनेक हिस्सों में युवाओं ने विरोध-प्रदर्शन किया और केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। पुलिस अधिकारियों का दावा है कि प्रदर्शन के दौरान कहीं से किसी अप्रिय घटना की अभी तक कोई खबर नहीं है। कभी केंद्र में सत्तारूढ़ राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) का हिस्सा रही राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी (आरएलपी) के कार्यकर्ता भी इस प्रदर्शन में शामिल हुए। पार्टी ने ‘अग्निपथ’ योजना का विरोध करते हुए जिला मुख्यालयों में प्रदर्शन की घोषणा की थी।

Related Articles

Back to top button