दिल्ली स्टेशन पर चार रेलवे कर्मचारीयों ने प्‍लेटफॉर्म पर किया महिला से गैंगरेप

नई दिल्ली
नई दिल्ली रेलवे स्टेशन पर गैंगरेप का सनसनीखेज मामला सामने आया है। बताया जाता है कि सामूहिक बलात्कार की यह वारदात रेलवे स्टेशन के किसी अंधेरे इलाके में नहीं, बल्कि प्‍लेटफॉर्म पर ही हुई। जहां एक रूम में एक महिला के साथ दो लोगों ने इस घटना को अंजाम दिया। मामले में चार लोगों को गिरफ्तार किया गया है। इनमें दो इनका साथ देने वाले आरोपी हैं। चारों आरोपी रेलवे के कर्मचारी बताए गए हैं। सूत्रों ने बताया कि पीड़िता महिला की उम्र 28 से 30 साल के बीच है। उसकी यहां आरोपियों में से एक से कुछ समय पहले जान-पहचान हुई थी। गुरुवार-शुक्रवार रात को एक आरोपी ने पीड़ित महिला को नई दिल्ली रेलवे स्टेशन पर किसी बहाने से बुला लिया। इसके बाद आरोपी उसे नई दिल्ली रेलवे स्टेशन के प्‍लेटफॉर्म नंबर-8/9 पर बने एक कमरे में ले गया। यह कमरा प्‍लेटफॉर्म पर फुटओवर ब्रिज के नीचे इलेक्ट्रिकल डिपार्टमेंट और अन्य विभाग द्वारा इस्तेमाल करने के लिए बनाया गया है, जिसमें कुछ उपकरण भी लगे हैं।

वारदात के बाद भाग गए थे आरोपी
बताया जाता है कि मुख्य आरोपी ने वहां तीन और लोगों को बुला लिया। बताया जाता है कि सभी आरोपी नशे में थे। जिन्होंने महिला को डरा-धमकाकर उसके साथ गैंगरेप किया। मामले में सीधे तौर पर दो लोग शामिल बताए गए। लेकिन अन्य दो को भी पुलिस ने इनका साथ देने के आरोप में गिरफ्तार किया। बताया जाता है कि वारदात गुरुवार-शुक्रवार आधी रात 12:30 बजे से 1:30 बजे के बीच अंजाम दी गई। बाद में आरोपी मौके से भाग गए।

रेलवे कर्मचारी है मुख्‍य आरोपी
बदहवास पीड़िता ने किसी तरह होश संभालने के बाद पुलिस को शुक्रवार तड़के करीब 2:30 बजे पीसीआर कॉल की। नई दिल्ली रेलवे स्टेशन के प्‍लेटफॉर्म पर गैंगरेप की खबर सुनकर पुलिस के भी होश उड़ गए। आनन-फानन में मौके पर जीआरपी और रेलवे पुलिस के अलावा रेलवे के अन्य अधिकारी भी मौके पर पहुंचे। वहां पीड़ित महिला से बात करके पूरा मामला जाना गया। जीआरपी को पता लगा कि गैंगरेप की वारदात को अंजाम देने वाला मुख्य आरोपी रेलवे का ही कर्मचारी है।

इसके तुरंत बाद नई दिल्ली रेलवे स्टेशन की पुलिस ने कार्रवाई करते हुए पहले मुख्य आरोपी को पकड़ा। उससे पूछताछ में पता लगा कि वारदात में शामिल अन्य तीन आरोपी भी रेलवे कर्मचारी ही हैं। इसके बाद अन्य फरार आरोपियों को पकड़ने के लिए जीआरपी ने कई जगह दबिश दी। जिसके बाद फरार अन्य तीनों आरोपियों को भी दबोच लिया गया। सूत्रों का कहना है कि चारों आरोपी नशे में थे। बताया गया है कि गिरफ्तार आरोपी रेलवे के इलेक्ट्रिकल और अन्य डिपार्टमेंट में काम करते हैं।

Related Articles

Back to top button