मेडिफेस्ट से आम लोगों में आए सेहत के प्रति जागरूकता: मुख्य सचिव

जयपुर। मुख्य सचिव श्रीमती उषा शर्मा ने कहा कि जयपुर में आयोजित होने वाले मेडिफेस्ट में ज्यादा से ज्यादा लोगों की भागीदारी सुनिश्चित की जाए। उन्होंने कहा कि इस फेस्ट के माध्यम से लोगों को बीमारियों और सेहत से जुड़ी समस्याओं के बारे में देश और राज्य के आला दर्जे के विषय विशेषज्ञों से जानकारी और राय मिलेगी। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि इस दौरान आयोजित होने वाले सैशन्स इंटरेक्टिव और इंफोर्मेटिव हों और लोगों को आम भाषा में जानकारी मिले, ताकि वे जागरुक हों।

मुख्य सचिव ने एसएमएस कैम्पस में बनने वाले आईपीडी टावर और हृदय रोग संस्थान के शिलान्यास तथा चिकित्सा विभाग की प्रदर्शनी व दो दिवसीय मेडिफेस्ट के आयोजन की तैयारियों के संबंध में आयोजित समीक्षा बैठक में यह निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि मेडिफेस्ट से संबंधित जानकारियों का ज्यादा से ज्यादा प्रचार प्रसार सुनिश्चित किया जाए, ताकि अधिकतम संख्या में आमजन इससे जुड़ें। उन्होंने निर्देश दिये कि ग्राम पंचायतों को भी ऑनलाइन माध्यम से सैशन्स से जोड़े जाने के समुचित प्रबंध किये जाएं।

श्रीमती शर्मा ने कहा कि हाइपरटेंशन, कैंसर, हृदय रोग और डिप्रेशन जैसी बीमारियों के संबंध में आम जन को जागरूक किया जाना आवश्यक है। इसके साथ ही फिटनेस के बारे में भी लोगों को प्रेरित किया जाना चाहिये। आम जन में सेहत के प्रति जागरूकता पैदा कर निरोगी राजस्थान का लक्ष्य पूरा किया जा सकता है। मुख्य सचिव ने आईपीडी टावर व हृदय रोग संस्थान के शिलान्यास तथा प्रदर्शनी से संबंधित सभी व्यवस्थाएं भी सही समय पर होना सुनिश्चित करने के लिए अधिकारियों को निर्देश दिये।

प्रमुख शासन सचिव चिकित्सा शिक्षा विभाग श्री वैभव गालरिया ने बताया कि मार्च के अंतिम सप्ताह से अप्रेल माह के प्रथम सप्ताह के बीच एसएमएस कैम्पस में बनने वाले आईपीडी टावर और हृदय रोग संस्थान का शिलान्यास तथा चिकित्सा विभाग द्वारा प्रदर्शनी व दो दिवसीय मेडिफेस्ट का आयोजन किया जाएगा। उन्होंने बताया कि जयपुर प्राधिकरण द्वारा 24 मंजिला आईपीडी टावर तथा कार्डियोलॉजी संस्थान का निर्माण किया जा रहा है। इनका निर्माण 32 माह में पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है। उन्होंने बताया कि इस दौरान आयोजित दो दिवसीय प्रदर्शनी में राज्य में लेटेस्ट मेडिकल इनोवेशन तथा मेडिकल उपकरणों का प्रदर्शन किया जाएगा। मेडिकल फेस्ट के तहत विभिन्न सत्र आयोजित किये जाएँगे, जिसमें विषय विशेषज्ञों द्वारा आमजन को बीमारियों से बचाव निदान और उपचार के बारे में जानकारी दी जाएगी और उनकी जिज्ञासाओं के उत्तर दिये जाएंगे। उन्होंने बताया कि देश भर के जाने माने चिकित्सकों को फेस्ट के लिए आमंत्रित किया गया है।

बैठक में प्रमुख शासन सचिव यूडीएच श्री कुंजी लाल मीणा, शासन सचिव स्वायत्त शासन विभाग डॉ. जोगाराम, आयुक्त जयपुर विकास प्राधिकरण श्री गौरव गोयल सहित एसएमएस मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल और नियंत्रक डॉ. सुधीर भण्डारी सहित संबंधित विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

Related Articles

Back to top button