लखीमपुर कांड: पेड़ से लटकी मिली दो सगी बहनों की लाश, मां ने बताया कैसे मिले लड़कियों के शव

लखीमपुर
 निघासन इलाके में बुधवार शाम दो सगी दलित नाबालिग बहनें (17 व 15 वर्ष) एक ही पेड़ से लटकती मिलीं। मां ने आरोप लगाया है कि तीन युवक बाइक से आए और उसकी बेटियों को खींच ले गए थे। उसने अगवा कर हत्या किए जाने का आरोप लगाया है। निघासन कोतवाली क्षेत्र के तमोलिनपुरवा गांव में दो दलित लड़कियों के शव पेड़ से लटके मिले। इन किशोरियों के घर गांव के एक बाहरी छोर पर हैं। उसके घर के आसपास गन्ने के खेत शुरू हो जाते हैं। गांव की बाकी बस्ती थोड़ी दूरी पर है।

बुधवार शाम करीब पांच बजे किशोरियों का पिता घर पर नहीं था। वह धान काटने गया था। उसकी बीमार पत्नी अपनी 15 व 17 साल की बेटियों के साथ अकेली थी। इस बीच बुधवार की शाम महिला ने अचानक शोर मचाना शुरू किया कि उसकी बेटियों को कुछ लोग खींचकर गन्ने के खेत में ले गए हैं। महिला का शोर सुनकर गांव के तमाम लोग खेतों की तरफ जाकर तलाश शुरू कर दी।

महिला ने बताया कि एक बाइक पर सवार होकर तीन लोग आए थे जो उनकी बेटियों को खींच ले गए। विरोध करने पर उसको लात मार दी। जिससे वह गिर गई। करीब 45 मिनट बाद गांव से करीब पौन किमी दूर एक गन्ने के खेत में लगे खैर के एक छोटे पेड़ पर दुपट्टे के सहारे दोनों लड़कियां लटकी मिलीं। एक किशोरी के पैर भी जमीन पर लग रहे थे। सूचना पाकर कोतवाल चंद्रभान यादव गांव पहुंचे।
 
हालांकि अभी तहरीर नहीं दी है। शव देखकर गांववालों ने हंगामा शुरू कर दिया। घटना के बाद निघासन में लोगों ने चौराहा जाम कर दिया और पुलिस के खिलाफ प्रदर्शन किया। ग्रामीणों ने घटनास्थल पर जा रहे एसपी को भी घेर लिया। किशोरियों की मां चौराहे पर धरने पर बैठ गई। उधर, घटना की सूचना पर लखनऊ से आईजी लक्ष्मी सिंह भी पहुंच गईं। सूचना पर पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के लिए भेजे। पुलिस जांच कर रही है। पोस्टमार्टम के बाद स्थिति स्पष्ट हो सकेगी।

दोषी जल्द गिरफ्तार किए जाएंगे एडीजी
प्रदेश के एडीजी कानून-व्यवस्था प्रशांत कुमार ने कहा कि लखीमपुर खीरी के निघासन इलाके में दो बहनों की पेड़ से लटकती लाश बरामद होने की सूचना मिलते ही आईजी रेंज लखनऊ लक्ष्मी सिंह को भी मौके पर भेजा गया है। दोषियों को जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

 

Related Articles

Back to top button