एससी-एसटी एक्ट के विरोध में रैली, सम्मेलन आज, प्रशासन सतर्क

ग्वालियर
 एससी-एसटी एक्ट में संशोधन के खिलाफ आक्रोशित सामान्य-पिछड़ा वर्ग के विभिन्न संगठन 4 सितंबर को बाइक रैली निकालेंगे और स्वाभिमान सम्मेलन करेंगे, इसके बाद 6 सितंबर को शहर बंद कराकर अपना विरोध प्रकट करेंगे।
 
प्रदर्शन को लेकर प्रशासन सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम करने में जुटा है, लेकिन रैली में बाइकर्स की संख्या और सम्मेलन में आने वाली भीड़ को लेकर स्थिति स्पष्ट न होने से अधिकारी संशय में हैं। सूत्र बताते हैं कि पुलिस और स्पेशल ब्रांच के इंटेलिजेंस को स्थिति का आकलन करने की जिम्मेदारी दी गई है, ताकि सटीक सूचनाएं एकत्रित की जा सकें और उसी हिसाब से एक्शन प्लान तैयार किया जा सके।
 
असल में प्रशासन की चिंता इसलिए भी है कि पिछले कुछ दिन से मंत्रियों, सांसदों, विधायकों को एससी-एसटी एक्ट के विरोध में काले झंडे दिखाने का सिलसिला शुरू हो गया है। रविवार को हुए प्रदर्शन के बाद प्रशासन ज्यादा सतर्कता बरत रहा है। खबर है कि स्थिति बिगड़ती दिखी तो इंटरनेट सेवाओं को भी प्रतिबंधित किया जा सकता है।

 शांति पूर्ण प्रदर्शन का वादा
सोमवार को दोपहर में पुलिस कंट्रोल रूम में अधिकारियों ने शांति एवं सद्भाव समिति की भी बैठक ली, जिसमें सदस्यों ने साफ तौर पर कहा है कि सभा, प्रदर्शन और रैली शांति पूर्ण तरीके से होंगे, लेकिन पुलिस या प्रशासन की ओर से जोर-जबरदस्ती करने की कोशिश हुई तो स्थिति बिगडऩे की संभावना रहेगी।
 
यहां से निकलेगी बाइक रैली
एससी-एसटी एक्ट और आरक्षण के विरोध में क्षत्रिय महासभा द्वारा मंगलवार को दोपहर 12 बजे अचलेश्वर मंदिर से बाइक रैली निकाली जाएगी। रैली में शामिल बाइकर्स इंदरगंज, दौलतगंज, महाराज बाड़ा, सराफ ा बाजार, गश्त का ताजिया, राम मंदिर होते हुए मोतीमहल पहुंचकर संभागायुक्त को ज्ञापन देंगे, इसके साथ फूलबाग पर स्वाभिमान सम्मेलन में हिस्सा लेंगे।
 
काले झंडे दिखाएंगे

सर्व समाज के प्रतिनधि महेश मुदगल, राजवीर सिंह राठौर, दुष्यंत साहनी, शिवपाल सिंह कुशवाह, रामबाबू कटारे ने बताया कि शांति पूर्ण तरीके से प्रदर्शन करेंगे। साथ ही केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर, पूर्व केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया, राज्यसभा सदस्य प्रभात झा सहित अन्य प्रमुख नेताओं के शहर में आने पर काले झंडे दिखाने का सिलसिला जारी रहेगा। 5 सितंबर को आकाशवाणी के पास एक होटल में भाजपा के संभागीय सम्मेलन में आ रहे प्रदेश प्रभारी विनय सहस्त्रबुद्धे और महामंत्री संगठन सुहास भगत को भी काले झंडे दिखाने की तैयारी है।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Join Our Whatsapp Group