छिंदवाड़ा में देश का पहला मक्का महोत्सव शुरु, आदिवासी लोकसंस्कृति का अनूठा संगम

जबलपुर
संभाग के छिंदवाड़ा जिले में देश का पहला मक्का महोत्सव आज से शुरु हो गया है। जिला प्रशासन द्वारा आयोजित दो दिवसीय महोत्सव में देश भर के मशहूर वैज्ञानिक-शोधकर्ताओं द्वारा मक्का फसल पर अहम जानकारियां दी जा रही हैं। कलेक्टर वेदप्रकाश ने बताया कि महोत्सव का प्रमुख उद्देश्य मक्का फसल के उत्पादन इसके व्यवसायिक और कृषि उपयोग को बढ़ावा देना है।

दशहरा मैदान में चार अलग-अलग डोम में इस संदर्भ में आयोजन किए जा रहे हैं। डोम नंबर एक में आयोजित कार्यशाला में वैज्ञानिकों-शोधकर्ताओं द्वारा अपनी खोज पर आधारित अहम जानकारियां किसानों, फसल प्रयोगकर्ताओं, व्यवसायियों और उद्यमियों, विभिन्न कंपनियों के प्रतिनिधियों को दी जा रही हैं। डोम नंबर दो में आदिवासी बाहुल्य जिले में लोक कला और संस्कृति का प्रचार-प्रसार करते हुए मक्का की महत्ता पर प्रकाश डाला जा रहा है। डोम नंबर तीन में एक्सपो लगाया गया है जहां विभिन्न कंपनियों द्वारा अपने मक्का उत्पादों, मक्के से बने ढेरों आइटम, ज्वैलरी आदि का प्रदर्शन किया जा रहा है। डोम नंबर चार में मक्के से बने लजीज व्यंजनों का लोग लुत्फ उठा रहे हैं।

नगर-निगम कमिश्नर ईच्छित गढ़पाले ने बताया कि इसी के साथ विशेष रुप से एक सेल्फी प्वाइंट बनाया गया है जहां आने वाले दर्शक,वैज्ञानिक,शोधकर्ता आदि मक्का उत्पादों और एक्सपर्ट्स के साथ सेल्फी ले रहे हैं। इस अवसर पर विभिन्न प्रतियोगिताओं के माध्यम से भी मक्के का प्रमोशन किया जा रहा है।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Join Our Whatsapp Group