जबलपुर: वृद्धा को इंसाफ दिलाने के लिए एसपी गए घर की दहलीज तक

जबलपुर
 जबलपुर में एसपी अमित सिंह ने इंसानियत की मिसाल कायम की है। एक वृद्धा को इंसाफ दिलाने के लिए वह वृद्धा के साथ उसके घर की दहलीज तक गए। दरअसल वृद्ध महिला ने शिकायत की थी कि उसके साथ उसका लड़का अक्सर मारपीट करता है। शराब के नशे में वह उससे पैसे भी छुड़ा लेता है। लाचार वृद्धा ने जब अपनी बेबसी एसपी अमित सिंह को बताई तो उन्होंने उसको इंसाफ दिलाने की ठान ली और वृद्धा का हाथ पकड़कर उसके फूटा ताल स्थित घर तक छोड़ने के लिए गए।

शुक्रवार दोपहर एसपी अमित सिंह अपने कार्यालय में बैठकर आम जनता से मुलाकात और समस्याओं की सुनवाई करने में व्यस्त रहे। तभी एक वृद्धा उनके पास आई और रो-रोकर बताया कि मेरा शराबी बेटा रोज मारपीट करता है। मुझे 400 रुपए की पेंशन मिलती है, जो वह छुड़ाकर शराब पी लेता है। तब एसपी ने वृद्धा को ढांढस बंधाकर कहा कि चलो, मां आज आपके बेटे को सुधारते हैं। फिर वृद्धा शकुंतला श्रीवास्तव (65) को हाथ पकड़कर सहारा दिया और अपनी गाड़ी में बैठाकर उसके फूटाताल स्थित घर पर पहुंच गए।

दोपहर करीब 2.30 बजे एसपी अमित सिंह ने वृद्धा शकुंतला को परेशान करने वाले बेटे सुरेश श्रीवास्तव (32) को सामने पाकर जमकर फटकार लगाई। साथ ही चेतावनी देकर कहा कि अगली बार वृद्ध मां से मारपीट की तो तुम्हे गिरफ्तार कर सीधे जेल भेजा जाएगा। एसपी की इस चेतावनी से डरकर बेट सुरेश ने तुरंत अपनी मां के पैर पकड़ लिए। फिर कान पकड़कर उठक-बैठक लगाई और मां से कभी मारपीट नहीं करने की कसम खाई। जबकि एसपी अमित सिंह के अचानक फूटाताल पहुंचने की हनुमानताल पुलिस को भी जानकारी नहीं रही।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Join Our Whatsapp Group