देवी अहिल्या विश्वविद्यालय ने एक्सीलेंस की राशि के लिए फिर रिमांडर पत्र भेजा

 इंदौर
सात अध्यनशालाओं को सेंटर आफ एक्सीलेंस का दर्जा मिल चुका है। मगर अभी तक देवी अहिल्या विश्वविद्यालय को राशि नहीं मिली है। अब विश्वविद्यालय प्रशासन ने उच्च शिक्षा विभाग को पत्र भेजकर अनुदान आवंटन करने पर जोर दिया है। हालांकि विभाग से चरणबद्ध तरीके से राशि प्राप्त करने का आश्वासन दे रखा है। हालांकि जुलाई से विश्वविद्यालय अनुदान की राशि मिलने का इंतजार करने में लगा है।

उच्च शिक्षा विभाग ने एक्सीलेंस के लिए नए सिरे से विश्वविद्यालयों से प्रस्ताव मांगे थे। जनवरी में विश्वविद्यालय की तरफ से पच्चीस विभागों ने अपनी जानकारी भेजी। अध्ययन करने के बाद विभाग ने जुलाई में सात विभागों को सेंटर का दर्जा दिया और 15 करोड़ रुपये मंजूर किए, जिसमें स्कूल आफ एजुकेशन, स्कूल आफ इंस्ट्रुमेंटेशन, स्कूल आफ केमिस्ट्री, स्कूल आफ लाइफ साइंसेज, स्कूल आफ मैथमेटिक्स, स्कूल आफ फिजिक्स और स्कूल आफ स्टैटिस्टिक्स शामिल हैं। उन्होंने कहा कि ये वे विभाग हैं जो फंड मिलने का इंतजार कर रहे हैं। मगर चार महीने बीतने के बावजूद अनुदान की राशि आवंटित नहीं की गई है। इसके चलते विश्वविद्यालय को सेंटर को विकसित करने में दिक्कतें आ रही है।

Related Articles

Back to top button