फ्लैट में मिली थी महिला की लाश ,हत्यारा हुआ गिरफ्तार

ग्वालियर

ग्वालियर में 10 दिन पहले हुई सीता थापा की हत्या में फरार उसके लिव-इन पार्टनर को पुलिस ने बस स्टैंड से गिरफ्तार कर लिया है। उसने हत्या करना कबूल कर लिया है। आरोपी शेरू थापा ने बताया है कि दो साल पहले कोरोना में उसकी नौकरी छूट गई थी। वह बेरोजगार हो गया था तो सीता के तेवर बदल गए थे। वह अपनी कमाई पर मुझे पाल रही थी ऐसा बार-बार अहसान दिखाती थी। वह जब भी शराब पीकर आता था सीता उसे दुत्कार देती थी। उस दिन भी ऐसा हुआ। जिस पर मेरा दिमाग सनक गया और उसका गला काट दिया। घटना पीएचई कॉलोनी के फ्लैट नंबर-10 में हुई थी। पुलिस आरोपी से और डिटेल में पूछताछ कर रही है।

सीएसपी रवि भदौरिया ने बताया कि 27 फरवरी की रात हजीरा की पीएचई कॉलोनी स्थित एक फ्लैट में महिला का शव पड़ा मिला था। महिला की पहचान सीता थापा के रूप में हुई थी। पता लगा था कि वह यहां शैफ शेरू थापा के साथ लिव इन में कई सालों से रह रही थी। वैसे वह इंदौर की रहने वाली थी। घटना के बाद से शेरू फरार था। महिला का शव भी सड़ने लगा था। ऐसा प्रतीत हो रहा था कि हत्या 24 से 36 घंटे पहले हुई है। शैफ पर शंका होने के बाद पुलिस टीम उसकी तलाश में लगा दी गई। इसी दौरान बुधवार को मालूम चला कि आरोपी बस स्टैंड पर है। इस पर टीम ने उसे दबोच लिया। पूछताछ में उसने अपना नाम शेरू थापा बताया। उसने बताया कि हत्या के बाद वह उज्जैन और इंदौर रहा। वही रहकर फरारी भी काटी। पुलिस पता लगा रही है कि फरारी उसने कहां और कैसे काटी। किन-किन लोगों ने उसकी मदद की। पुलिस को अभी उससे चाकू भी बरामद करना है।

पीएचई कालोनी स्थित राजीव गांधी आवास के फ्लेट नंबर 10 से 27 फरवरी की रात जब बदबू आई तब मल्टी वालों को शंका हुई। जाकर देखा तो सीता थापा की लाश पड़ी हुई थी। पुलिस को खबर मिली तो मौके पर पहुंची। लाश न्यूड पड़ी थी। उसके साथ लिव इन रिलेशनशिप में रहने वाला शेरू थापा गायब था। सीता के गले पर चाकू के वार थे, इसलिए यह तो तय था कि उसकी चाकू से गला रेतकर हत्या की गई है। शेरू शराब पीने का आदी था। इसलिए पूरा शक उस पर ही था। पुलिस ने शव को पोस्टमॉर्टम हाउस भेजकर मल्टी वालों से बात की तो उनका कहना था कि पिछले दो दिन से सीता को नहीं देखा। उसके दरवाजे खुले हुए थे। जब बदबू आने लगी तब जाकर यह घटना पता चली है। फिलहाल पुलिस शेरू की तलाश में जुटी हुई है। उसके ठिकानों के बारे में पता किया जा रहा है।

Related Articles

Back to top button