रोजगार एवं कॅरियर मेलों से 25 हजार से अधिक विद्यार्थियों को मिला रोजगार एवं स्व-रोजगार

भोपाल

प्रदेश के शासकीय महाविद्यालयों में रोजगार एवं कॅरियर अवसर मेलों तथा कौशल उन्नयन के लिए हुए प्रशिक्षण कार्यक्रमों से प्रदेश के विद्यार्थियों को रोजगार प्रदान किया जाता है।

गौरतलब है कि उच्च शिक्षा विभाग की स्वामी विवेकानंद कॅरियर मार्गदर्शन योजना से शासकीय महाविद्यालयों में सत्र 2021-22 तथा 22-23 में 21 हजार 315 विद्यार्थियों ने बैंकिंग, फार्मा, कोरियर सर्विस, माइक्रो फायनेंस एवं स्माल फाइनेंस, सेक्युरिटी सेवा, बायो टेक्नोलॉजी, एग्रोटेक, टेक्सटाइल, वर्धमान, यार्न, अल्ट्राटेक, ब्रिज स्नों पीथमपुर, टीसीएस, विप्रो, सिप्ला आदि अशासकीय संगठित और असंगठित क्षेत्रों में रोजगार प्राप्त किये। साथ ही 3595 विद्यार्थियों ने स्वयं का व्यवसाय शुरू किया।

ज्ञात हो कि महाविद्यालयों में स्व-रोजगार के लिए कॅरियर मार्गदर्शन योजना प्रशिक्षण शिविर आयोजित किए जाते हैं। प्रशिक्षण प्राप्त विद्यार्थी अपना स्वयं का व्यवसाय शुरू कर सकते हैं। ऐसे ही प्रशिक्षण प्राप्त विद्यार्थियों ने अलग-अलग क्षेत्रों में स्वयं का व्यवसाय प्रारंभ किया है। इसमें ब्यूटी पार्लर, बुटीक, केक निर्माण, वर्मीकंपोस्ट निर्माण, मछली पालन तथा वनोपज से संबंधित व्यवसाय शामिल हैं।

इसके अतिरिक्त शासकीय महाविद्यालयों को उद्यमिता शिविर किए जाते हैं, जिसमें महाविद्यालय के विद्यार्थियों द्वारा बनाए गए उत्पादों का प्रदर्शन एवं विक्रय किया जाता है। इससे अनेक विद्यार्थियों को आय प्राप्त हो रही है। अनेक छात्र– छात्राएँ आय प्राप्त कर रहे हैं।

 

Related Articles

Back to top button