‘शोले’ स्टाइल में गांववालों ने चंबल घाटी में एक ‘डकैत’ को मौत के घाट उतारा

भोपाल 
मध्य प्रदेश के मुरैना जिले के कर्ण मानपुर गांव में शुक्रवार को एकदम फिल्मी नजारा देखने को मिला। यहां गांववालों ने उनसे पैसे लूटने आए डकैतों में से एक को गोली मार दी। डकैत की मौत के साथ चंबल घाटी में डकैतों और बरसों पुरानी छवि के खिलाफ गांववालों ने बिगुल बजा दिया है। हालांकि, पुलिस को शक है कि ये लोग कहीं से भागे हुए अपराधी थे जिनकी पुलिस को तलाश थी। 
 
गौरतलब है कि मुरैनामुरैना-भिंड जिलों की चंबल-विंध्या श्रृंखला को डकैतों से मुक्त होने में 40 लग गए। आखिरी एनकाउंटर मार्च 2007 में हुआ था, जब 9 डकैतों को मार दिया गया था। इनमें जगजीवन परिहार शामिल था, जिसके ऊपर 9 लाख रुपये का इनाम था। मुठभेड़ में एक इंस्पेक्टर और पांच पुलिसवाले शहीद हो गए थे। 

यह गांव मुरैना से 40 किलोमीटर दूर है। गांववालों ने पुलिस को बताया कि सात डकैत, जिनमें से पांच हथियारों से लैस थे, पिछले हफ्ते गांवालों को धमकाकर गए थे। उन्होंने बताया कि डकैत 50,000 रुपये और घी की मांग कर रहे थे। मुरैना के एसपी अमित सांघी ने बताया, 'शुक्रवार रात वे आए और पैसे मांगने लगे। जब उन लोगों ने गोली चलाई तो बचाव में गांववालों ने भी गोली चली दी।' 

दूसरे राज्यों में भेजी गईं तस्वीरें 
पुलिस ने बताया कि गांववालों ने भरमार (देसी) बंदूक से डकैतों का सामना किया। मृत डकैत का शव अगले दिन बरामद किया। उसकी शिनाख्त अभी नहीं हो सकी है। सांघी ने बताया कि शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया गया है। उसकी तस्वीरें जारी कर राजस्थान और उत्तर प्रदेश की पुलिस के पास पहचान के लिए भेज दी गई हैं। उन्होंने बताया कि इस क्षेत्र में कोई डकैत नहीं जाना जाता है, इसलिए मृतक का पहचान पता लगाने की कोशिश की जा रही है। जहां यह घटना हुई वहां से करीब 500 मीटर की दूरी तक खून के निशान थे। इससे संभावना जताई जा रही है कि और डकैत भी घायल हुए हैं। 

पुलिस को शक है ये लोग भागे हुए अपराधी हो सकते हैं। उन्होंने बताया कि कुछ अपराधियों की पुलिस को तलाश है। उन्होंने शक जताया है कि मारा हुआ शख्स 16,000 का इनामी बदमाश हो सकता है। दरअसल, यह इलाका राजस्थान, मध्य प्रदेश और उत्तर प्रदेश को जोड़ता है। इसलिए ऐसे लोगों को सीमा छोड़ने में आसानी होती है। 

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Join Our Whatsapp Group